लखनऊ, जेएनएन। UP Government Budget 2020 : 'सबका साथ सबका विकास' के अपने वादे पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आगे बढ़ते हुए अल्पसंख्यकों के कल्याण पर भी फोकस किया है। योगी सरकार ने अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के बजट में 111.21 करोड़ रुपये का इजाफा करते हुए कुल 3159.24 करोड़ रुपये दिए हैं। योगी सरकार प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में 21 कॉमन सर्विस सेंटर खोलने जा रही है। यहां सरकार की सभी योजनाओं का लाभ पाने के लिए आवेदन किया जा सकेगा।

इस बजट के जरिये योगी सरकार ने यह संदेश देने की कोशिश की है कि तुष्टिकरण की राजनीति के उन पर जो आरोप लगते हैं वह बेबुनियाद हैं। इस बजट में योगी सरकार ने अल्पसंख्यकों के लिए कॉमन सर्विस सेंटर के निर्माण की नई योजना लांच की है। साथ ही पुरानी योजनाओं को मजबूत करने के लिए बजट दिया है।

योगी सरकार ने अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने के लिए 783 करोड़ रुपये का बजट दिया है। इससे शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता व पेयजल सहित अन्य मूलभूत अवस्थापना सुविधाएं विकसित की जाएंगी।

कब्रिस्तान की चहारदीवारी के लिए 100 करोड़

योगी सरकार ने कब्रिस्तान व अंत्येष्टि स्थल की चहारदीवारी के लिए 100 करोड़ रुपये दिए हैं। अखिलेश सरकार के समय यह योजना शुरू हुई थी, लेकिन योगी सरकार ने इस योजना को बंद नहीं किया है। इसके तहत कब्रिस्तानों को अवैध कब्जों से बचाने के लिए उनकी चहारदीवारी की जाती है।

अल्पसंख्यकों के लिए बजट में खास

  • मदरसों में आधुनिक विषय पढ़ाने के लिए : 479 करोड़ 
  • अरबी-फारसी मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए : 394 करोड़
  • अरबी-फारसी मदरसों को अनुदान : 817.57 करोड़
  • प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए : 600 करोड़
  • पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए : 190 करोड़

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस