शत्रुघ्‍न शर्मा, अहमदाबाद। नागरिकता संशोधन कानून व एनआरसी को लेकर गुजरात पुलिस को आतंकियों की ओर से एक धमकी भरा पत्र मिला है, जिसमें गुजरात में दंगा कराने, पुलवामा व उरी जैसे हमले करने की धमकी के साथ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, सीएम विजय रूपाणी व अन्‍य कई हिंदूवादी नेताओं के आतंकियों के निशाने पर होने की बात कही है।

धमकी भरे पत्र में लिखा है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल, प्रदेश के गृह राज्‍यमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा, पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा, डॉ. तोगड़िया आदि नेताओं को मौत बुला रही है। गुजरात में दंगा भी कराएंगे, रोक सको तो रोक लो। पुलवामा व उरी की तरह एक बड़े आतंकी हमले के लिए तैयार रहो।

गुजरात पुलिस के खुफिया विभाग के उपायुक्‍त भगीरथ टी गढवी ने अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट के पुलिस आयुक्‍त सहित सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को एक परिपत्र जारी कर बताया है कि नागरिकता कानून व नेशनल रजिस्‍टर ऑफ सिटिजन के विवाद को लेकर एक चेतावनी पत्र मिला है, जिसमें लिखा है कि हम लंबे समय से शहर में हैं तथा कुछ खास लोगों व खास स्‍थलों पर हमला करेंगे। पत्र गुजरात में दंगा कराने, कश्‍मीर के पुलवामा में 44 जवानों व आर्मी कैंप उरी पर किए गए हमले जैसी घटना को अंजाम देने की बात कही गई है।

पत्र में बताया है कि अमित शाह, विजय रूपाणी, नितिन पटेल, प्रदीप सिंह जाडेजा, पुलिस महानिदेशक, जगन्‍नाथ मंदिर के महंत दिलीप दास महाराज, भाजपा अध्‍यक्ष जीतूभाई वाघाणी, विधानसभा में कांग्रेस के सचेतक शैलेष परमार, गुजरात हाईकोर्ट के मुख्‍य न्यायाधीश विक्रम नाथ, अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू परिषद के अध्‍यक्ष डॉ प्रवीण तोगड़िया, अहमदाबाद पुलिस आयुक्‍त आशीष भाटिया व भाजपा के कई नेताओं के नाम इसमें शामिल हैं, जो आतंकियों के निशाने पर हैं।

गौरतलब है कि बीते दो तीन दिनों से सोशल मीडिया पर अहमदाबाद के मुस्लिम बहुल इलाकों को शाहीनबाग बनाने जैसे वीडियो भी वायरल हो रहे थे, जिसके बाद से पुलिस सतर्क है। 

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस