लखनऊ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी (SP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार असली मुद्दों पर बात करने के बजाय उलझाने का काम करती है। दलितों-पिछड़ों के लिए संविधान में आरक्षण की व्यवस्था की गई है भाजपा उसे समाप्त करना चाहती है। संसद में और बाहर हम जनगणना में जातियों की गणना की मांग करते आए हैं। हमारी मांग है, 'जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी हिस्सेदारी'। पहले कांग्रेस ने और अब भाजपा जातिगत गणना के आंकड़े नहीं दे रही है।

अखिलेश सोमवार को प्रदेश मुख्यालय में मैनपुरी से लखनऊ आए समाजवादी विचार पदयात्रा का स्वागत कर रहे थे। यह पदयात्रा 30 जनवरी को मैनपुरी से शुरू हुई थी। इसका समापन 10 फरवरी सोमवार को लखनऊ में हुआ। इसमें 193 नौजवान शामिल हुए। अखिलेश ने कहा कि ये पदयात्री आलू और सरसों के खेतों में काम करते किसानों, गांव की गलियों और कारोबारियों से संपर्क करते हुए आए हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा हिंदू व मुस्लिम के बीच दीवार खड़ी कराती है। वह आपस में लड़ाई करके नफरत पैदा करती है। सपा सामाजिक रिश्तों में खाई पैदा नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार के लक्षण नहीं दिखते हैं। बड़े कारखाने बिक रहे हैं। जिन संस्थानों पर गर्व था वे बंद हो रहे हैं। उन्होंने पूछा, बुलेट ट्रेन कब दिल्ली, कोलकाता, लखनऊ होते हुए पटना पहुंचेगी? 

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस