खड़गपुर, जागरण संवाददाता। पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत खड़गपुर तहसील के पिंगला में गुरुवार की रात नाकेबंदी के दौरान ली गई तलाशी के क्रम में घाटाल से भाजपा उम्मीदवार भारती घोष की कार से करीब एक लाख, 13 हजार रुपये से अधिक की नगद राशि बरामद हुई है। शासन ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार की देर रात चुनाव को ले पिंगला इलाके में नाकेबंदी कर वाहनों की तलाशी ली जा रही थी। उसी दौरान घाटाल की भाजपा उम्मीदवार भारती घोष की कार से नगद राशि बरामद हुई। सूत्रों के मुताबिक, बरामद धनराशि एक लाख 13 हजार रुपये थी। इसके बाद पुलिस ने भारती घोष को 4 घंटे तक हिरासत में लेकर पूछताछ की। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

नियमों के मुताबिक चुनाव के दौरान कोई भी उम्मीदवार 50 हजार रुपये से अधिक की धनराशि अपने साथ नहीं रख सकता है। यदि उसके पास इससे अधिक राशि मिलती है तो उसे इसका सबूत दिखाना पड़ेगा। लिहाजा बरामद राशि को जब्त कर लिया गया। शासन और चुनाव आयोग ने मामले की जांच शुरू कर दी।

वहीं, पुलिस अधिकारी ने बताया कि भारती घोष को जिला पुलिस ने लगभग चार घंटे तक हिरासत में रखा और जब्‍ती के संबंध में पूछताछ की। पश्चिम बंगाल चुनाव आयोग ने मामले में जिला मजिस्ट्रेट से रिपोर्ट मांगी है। इस बीच, इलाके में तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने आरोप लगाया कि भारती घोष मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए पैसे ले जा रही थी।

दूसरी ओर, घोष ने आरोपों से इनकार किया और दावा किया कि यह राशि उनके निजी खर्चों के लिए थी। मेरे पास केवल 50,000 रुपये थे। मेरी गाड़ी में मेरे संयोजक और ड्राइवर थे। मेरे संयोजक के पास लगभग 49,000 रुपये थे और चालक के पास 13,000 रुपये थे। मेरे पास बैंक की तारीख और शाखा का विवरण है। राशि वापस ले ली गई। घोष ने कहा कि पैसा मेरे निजी खर्चों को पूरा करने के लिए थी। उनके मुताबिक, टीएमसी के आरोप गलत हैं। मैंने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया।

घोष घाटल लोक सभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं। यहां उनका मुकाबला बंगाली फिल्म स्टार और तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार दीपक देव से है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस