लखनऊ, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी ने 24 अगस्त को होने वाले राज्यसभा के उप चुनाव में जयप्रकाश निषाद को अपना प्रत्याशी बनाया है। उत्तर प्रदेश में राज्यसभा का यह उप चुनाव समाजवादी पार्टी के नेता बेनी प्रसाद वर्मा के निधन के कारण खाली सीट पर हो रहा है।

जयप्रकाश निषाद गोरखपुर क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष हैं। जयप्रकाश निषाद पहले बहुजन समाज पार्टी में थे। जयप्रकाश निषाद पूर्व विधायक है। वह बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर 2012 में चौरीचौरा सीट से विधायक निर्वाचित हुए थे।  भाजपा ने जयप्रकाश निषाद को राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाकर पिछड़ों पर दांव लगाया है। जयप्रकाश निषाद का कार्यकाल पांच मई 2022 तक रहेगा। 

पूर्वांचल के दिग्गज नेता जयप्रकाश निषाद मल्लाह बिरादरी से हैं। उन्हेंं उम्मीदवार बनाने को बिहार विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। वर्ष 2018 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जयप्रकाश निषाद को भारतीय जनता पार्टी में शामिल कराया था। जयप्रकाश निषाद 16वीं विधानसभा सभा में बहुजन समाज पार्टी से विधायक रहे हैं। वह 2012 में प्रदेश विधानसभा चुनाव में चौरीचौरा विधानसभा से उम्मीदवार थे। इसमें निषाद को जीत हासिल हुई थी।

इससे पहले उन्होंने 2007 का चुनाव मनीराम विधानसभा से लड़ा था, जहां वो तीसरे स्थान पर रहे थे। 2017 में भी उन्होंने चौरीचौरा से विधानसभा से चुनाव लड़ा परंतु भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी से हार गए। इससे पहले वह 2008 से 2009 तक बहुजन समाज पार्टी की सरकार में राज्य मंत्री रह चुके है। उन्होंने फरवरी 2018 में सीएम योगी आदित्यनाथ की एक सभा में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

बसपा छोड़ने के बाद समाजवादी पार्टी में भी रहे जयप्रकाश निषाद फरवरी 2018 में भाजपा में शामिल हो गए थे। उनके साथ लोकदल के गोरख सिंह सहित कई नेताओं कैम्पियरगंज के पीपीगंज में आयोजित बूथ समिति कार्यकर्ता सम्मेलन में भाजपा की सदस्यता ली। इसके बाद 11 मार्च 2018 को होने वाले गोरखपुर लोकसभा के उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी उपेन्द्र शुक्ल के प्रचार में लगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस