नई दिल्ली, एएनआइ। Delhi Assembly Election Results 2020: दिल्ली विधासभा चुनाव 2020 में कांग्रेस की करारी हार हुई है। पार्टी के 63 उम्मीदवार अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए। पार्टी की करारी हार पर चुनाव बाद पहली बार कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बयान दिया है। प्रियंका ने बुधवार को कहा 'जनता जो करती है, सही करती है। ये हमारे लिए संघर्ष का समय है'।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए प्रियंका ने कहा कि हमें बहुत संघर्ष करना है। हम करेंगे। बता दें कि कांग्रेस के सभी दिग्गज चुनाव हार गए। सिर्फ तीन उम्मीदवारों को छोड़कर सभी की जमानत जब्त हो गई। 

कांग्रेस के 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त

कांग्रेस के 66 में से 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। उसके उम्मीदवार किसी भी सीट पर दूसरे स्थान पर भी नहीं रहे। शीला सरकार में मंत्री रहे डॉ. एके वालिया, अरविंदर सिंह लवली, हारून यूसुफ, डॉ. नरेंद्र नाथ सहित कांग्रेस के सभी दिग्गजों को करारी हार का सामना करना पड़ा। वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा अपनी बेटी शिवानी को कालका जी से जीत नहीं दिला सके। जबकि वे यहां से विधायक रह चुके हैं। 

पत्नी की जमानत भी नहीं बचा सके कीर्ति आजाद

कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष कीर्ति आजाद की पत्नी पूनम आजाद संगम विहार विधानसभा सीट से प्रत्याशी थीं। कीर्ति आजाद कांग्रेस के बेहतर प्रदर्शन के दावे करते रहे, लेकिन वह पत्नी की जमानत भी नहीं बचा सके। पूनम आजाद संगम विहार सीट पर चौथे नंबर पर रहीं। पूनम को महज 2604 वोट मिले, जबकि आप प्रत्याशी दिनेश मोहनिया को 75345 वोट मिले।

जहां पर राहुल और प्रियंका ने की रैली वहां पर भी कांग्रेस उम्मीदवारों की जमानत जब्त

दिल्ली में कांग्रेस किस हद तक अपना जनाधार खो चुकी है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अब पार्टी का प्रदेश नेतृत्व ही नहीं, केंद्रीय नेतृत्व भी जनता के बीच अपनी साख और भरोसा खो चुका है। यही वजह रही कि जहां पर कांग्रेस का राष्ट्रीय मुख्यालय है, वहां भी और जहां पर गांधी परिवार के सदस्य रहते हैं वहां भी कांग्रेस प्रत्याशी अपनी जमानत तक नहीं बचा सके। और तो और जिन चार इलाकों में राहुल-प्रियंका की जनसभाएं हुईं, वहां भी कांग्रेस तीसरे से चौथे नंबर पर रही।

पार्टी का मुख्यालय के इलाके में भी हारी कांग्रेस 

पार्टी का मुख्यालय अकबर रोड पर है जबकि सोनिया गांधी का घर जनपथ, राहुल गांधी का तुगलक लेन और प्रियंका वाड्रा लोधी एस्टेट में रहती हैं। ये सभी इलाके नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र में आते हैं। यहां पर पार्टी तीसरे स्थान पर रही है। इस क्षेत्र में कुल वोट पड़े थे 76,530 जबकि कांग्रेस उम्मीदवार रोमेश सब्बरवाल को मिले केवल 3,220 यानि 4.21 फीसद। इनकी जमानत भी नहीं बच सकी।

इसी तरह से राहुल गांधी ने कोंडली और जंगपुरा में जनसभाएं कीं। इन दोनों विधानसभा क्षेत्रों में भी पार्टी तीसरे नंबर पर रही। कोंडली विधानसभा क्षेत्र में कुल वोट पड़े 1,28,680 जबकि पार्टी प्रत्याशी अंबरीश गौतम को मिले केवल 5,861 यानि 4.55 फीसद। जंगपुरा विधानसभा क्षेत्र में कुल वोट पड़े 88,703 जबकि कांग्रेस प्रत्याशी तर¨वदर सिंह मारवाह को मिले केवल 13,565 यानि 15.29 फीसद। इन दोनों ही विस क्षेत्रों में पार्टी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई।

 

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस