नोएडा, जेएनएन।  भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने युवा शक्ति पर भरोसा जताते हुए कहा क‍ि युवा शक्ति से ही देश का भला होगा। मौका था एमिटी विश्वविद्यालय में चल रहे 14वें तीन दिवसीय दीक्षा समारोह के समापन का। आखिरी दिन मैनेजमेंट एवं ऑनलाइन और डिस्टेंस प्रोग्राम के लगभग 7,500 छात्रों को डिग्रियां प्रदान की गईं। तीनों दिन कुल मिलाकर 15 हजारों छात्रों को स्नातक, स्नातकोत्तर, डिप्लोमा आदि की डिग्रियां दी गईं।

डोभाल हुए सम्‍मानित 
समारोह मे अजीत डोभाल को डॉक्टरेट ऑफ फिलासफी की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर 35 को बेस्ट ऑल राउंड स्टूडेंट अवार्ड, 81 को स्वर्ण, 79 को रजत, 44 को कांस्य पदक, 8 को कॉरपोरेट अवार्ड और 54 छात्रों को श्री बलजीज शास्त्री अवार्ड प्रदान किये गये।

युवाओं की शक्ति पर दिया जोर
वहीं, अजीत डोभाल ने कहा कि भारत दुनिया का प्रमुख शक्ति बन सकता है क्योंकि यहां की आबादी 50 फीसद युवाओं की है। युवा मानव संसाधन का सही प्रयोग कर, उसे संपत्ति के रूप में बदला जा सकता है, जिससे आने वाली पीढ़ी को अनेक अवसर प्राप्त होंगे।

आने वाली पीढ़‍ियों के लिए अच्‍छा करें

डॉ अशोक कुमार चौहान ने कहा कि जीवन में जो भी करें, उसका अच्छा प्रभाव सदैव आने वाली पीढ़ी पर होना चाहिए। इस दौरान एचएसबीसी इंडिया की पूर्व समूह महाप्रबंधक एवं देश प्रमुख नैना लाल किदवई को डॉक्टरेट की मानद उपाधि और स्कूल ऑफ बिल्ड एनवायरनमेंट के कार्यकारी निदेशक मार्क पॉवेल को प्रोफेसरशिप की मानद उपाधि दी गईं।

इस अवसर पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, एमिटी शिक्षण समूह के संस्थापक अध्यक्ष डॉ अशोक कुमार चौहान, एमिटी विवि उत्तर प्रदेश के कुलाधिपति डॉ अतुल चौहान, एमिटी विवि राजस्थान के कुलाधिपति डॉ असीम चौहान, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल की चेयरपर्सन डॉ अमिता चौहान, एमिटी डायरेक्टोरेट ऑफ डिस्टेंस एंड ऑनलाइन एजुकेशन के उपाध्यक्ष अजीत चौहान, एमिटी ह्यूमिनिटी फांउडेशन की उपाध्यक्ष पूजा चौहान और एमिटी स्कूल ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी एवं एमिटी स्कूल ऑफ फाइन आर्ट की उपाध्यक्ष दिव्या चौहान उपस्थित रहीं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस