नई दिल्ली, जेएनएन। भाजपा सांसद गौतम गंभीर गाजीपुर लैंडफिल साइट को समाप्त करवाकर इसे हरित क्षेत्र में तब्दील करवाना चाहते हैं। इसके लिए गंभीर चाहते हैं कि पूर्वी नगर निगम के अधिकारियों में भी इंदौर निगम आयुक्त, आइएएस अधिकारी आशीष सिंह व उनकी टीम के सदस्यों जैसी इच्छाशक्ति आए।

इंदौर में रिकार्ड छह महीने के अंदर 13 लाख टन कचरे का प्रबंधन किया गया। अब करीब 100 एकड़ जमीन पर गोल्फ कोर्स बनाने की तैयारी चल रही है। इसके अलावा घर-घर से गीला व सूखा कचरा अलग कर उसे नियमित रूप से निस्तारण किया जा रहा है। इस वजह से गौतम गंभीर ने आशीष सिंह को दिल्ली आमंत्रित किया है।

गंभीर ने बृहस्पतिवार को पूर्वी दिल्ली निगम मुख्यालय में आयुक्त डॉ. दिलराज कौर, अतिरिक्त आयुक्त डॉ. ब्रिजेश सिंह व अलका शर्मा, तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड (ओएनजीसी) के अधिकारियों के साथ गाजीपुर लैंडफिल साइट को लेकर बातचीत की।

गौरतलब है कि गंभीर को जब यहां से लोकसभा चुनाव का टिकट मिला था तो पत्रकारों ने सबसे ज्यादा सवाल इस समस्या को लेकर पूछे थे। दैनिक जागरण की ओर से जब जनता का घोषणा पत्र तैयार किया गया था, तब यह सबसे बड़ी समस्या उभरकर सामने आई थी।

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान गंभीर ने इसे अपने एजेंडे में सबसे ऊपर रखा था। चुनाव में जीत हासिल होने के तुरंत बाद ही उनकी टीम इस समस्या के समाधान के लिए संभावनाओं की तलाश में जुट गई थी। इसमें उनकी टीम को इंदौर का मॉडल सबसे बेहतर लगा। वहां एक अधिकारी के जज्बे और चंद अधिकारियों की टीम ने महज छह माह में 13 लाख टन कचरे के पहाड़ को पूरी तरह से हटाने में सफलता पाई थी।

गंभीर की टीम के सदस्यों का कहना है कि अगर पूर्वी निगम के अधिकारी भी इतनी ही शिद्दत से कार्य करें तो इस समस्या का आसानी से समाधान हो जाएगा। इस बैठक में गंभीर ने सांसद निधि के बेहतर इस्तेमाल, कारपोरेट कंपनियों से सीएसआर (कॉरपोरेट सोशल रिसपांसिबिलिटी) के माध्यम से फंड जुटाने की संभावनाओं पर बात की। अधिकारियों ने सीएसआर के माध्यम से फंड उपलब्ध कराने वाले क्षेत्रों के बारे में सांसद और ओएनजीसी के अधिकारियों को अवगत कराया।

निगमायुक्त डॉ. दिलराज कौर ने बताया कि निगम को स्वच्छता, ठोस कूड़ा प्रबंधन और शिक्षा के क्षेत्र में फंड की जरूरत है। ओएनजीसी के अधिकारियों ने कहा कि शीर्ष प्रबंधन पूर्वी दिल्ली निगम द्वारा चिन्हित इन क्षेत्रों में सीएसआर के माध्यम से मदद करने की संभावनाओं पर विचार कर यथासंभव मदद करेगा। सांसद ने कहा कि वह क्षेत्र के विकास के लिए पूर्वी दिल्ली नगर निगम, अन्य सरकारी विभाग और गैरसरकारी संस्थाओं के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करने को तैयार हैं। निगम मुख्यालय में गंभीर ने महापौर अंजू कमलकांत, नेता सदन निर्मल जैन, स्थायी समिति चेयरमैन संदीप कपूर के साथ भी बैठक की और निगम की स्थिति से अवगत हुए।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस