लखनऊ, जेएनएन। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (एससी-एसटी) एक्ट में बदलाव को रद करने के निर्णय को सही ठहराने का बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने स्वागत किया, परंतु प्रमोशन में आरक्षण को लेकर की टिप्पणी से असहमति जतायी। बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि प्रमोशन में आरक्षण को लेकर केंद्र सरकार तत्काल सकारात्मक कदम उठाए। इस मुद्दे को पूर्व की कांग्रेस सरकार की तरह न लटकाए।

बसपा प्रमुख  मायावती ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि 'एससी-एसटी के संघर्ष के कारण ही केंद्र सरकार द्वारा 2018 में एससी-एसटी एक्ट में बदलाव को रद करके उसके प्रावधानों को पूर्ववत बनाए रखने का नया कानून बनाया था, जिसे आज माननीय सुप्रीम कोर्ट ने सही ठहराया है। एससी-एसटी एक्ट को बधाई व उनके संघर्ष को सलाम, कोर्ट के फैसले का स्वागत।'

मायावती ने दूसरे ट्वीट में लिखा कि  'कल माननीय कोर्ट ने प्रमोशन में आरक्षण को लेकर जो कुछ कहा है। उससे बीएसपी कतई भी सहमत नहीं है। अत: केंद्र सरकार से मांग है कि वह इस मामले में तत्काल सकारात्मक कदम उठाए। अर्थात पूर्व की कांग्रेसी सरकार की तरह इसे न लटकाए।'

 

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस