सिलीगुड़ी, जागरण संवाददाता। नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजेंस (एनआरसी) व सिटिजेनशिप एमेंडमेंट एक्ट (सीएए) के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस अध्यक्षा व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज सिलीगुड़ी शहर में एक महाजुलूस कर रही है इसे लेकर पूरा शहर तृणमूल के रंग में रंग गया है। नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी पर मचे बवाल के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला बोला है।

शहर के प्रमुख मार्ग हिलकार्ट रोड पर बीचों बीच रोड डिवाइडर व सड़क का दोनों किनारा तृणमूल कांग्रेस के झंडों से पट गया है। सिलीगुड़ी में एक जनसभा को संबोधित करते वक्त ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से सवाल किया कि आप भारत के प्रधानमंत्री हैं या पाकिस्तान के एंबेस्डर। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कर्नाटक में एक जनसभा को संबोधित करते वक्त पाकिस्तान का जिक्र किया था और कहा था कि जो लोग संसद के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं, उन्हें पाकिस्तान में हो रहे अत्याचार के खिलाफ लगाने का सुझाव दिया था। 

ममता बनर्जी ने लोगों से साथ आने का आह्वान करते हुए कहा कि मैं नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ लड़ रही हूं। मेरे साथ आएं। मैं सभी लोगों के अपील कर रही हूं कि हमारे लोकतंत्र को बचाने के लिए आगे आएं। 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य के सिलीगुड़ी में रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा भारत एक बड़ा देश है जिसकी संस्कृति और विरासत समृद्ध है, आप हमारे देश की पाकिस्तान से क्यों बार-बार तुलना करते हैं? ममता ने मोदी से सवाल किया कि आप भारत के प्रधानमंत्री हैं या पाकिस्तान के राजदूत ।

नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी पर विवाद पर ममता बनर्जी ने कहा कि यह शर्म की बात है कि आजादी से 70 साल बाद भी हमें अपनी नागरिकता साबित करनी होगी। उन्होंने सिलीगुड़ी रैली में पूछा कि क्या प्रधानमंत्री भारत के बारे में भूल गए हैं जो उन्हें बार-बार पाकिस्तान के बारे में बात करने की आवश्यकता पड़ती है। जानकारी हो कि महाजुलूस के लिए पूरे उत्तर बंगाल से लोग सिलीगुड़ी आए है। 

यहां पर राज्य के मंत्रियों व तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का जमावड़ा है। यह महाजुलूस हिलकार्ट रोड पर प्रधान नगर थाना मोड़, सिलीगुड़ी जंक्शन, महानंदा ब्रिज, एयर व्यू मोड़, सेवक मोड़ व हाशमी चौक होते हुए अस्पताल मोड़, कचहरी रोड, कोर्ट मोड़, सिलीगुड़ी नगर निगम होते हुए बाघाजतीन पार्क तक जा कर संपन्न होगा।

मुख्यमंत्री के महाजुलूस के मद्देनजर शहर में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है। प्रशासन की ओर से दार्जिलिंग मोड़ से बाघाजतीन पार्क तक हिलकार्ट रोड व कचहरी रोड को "नो पार्किंग जोन" घोषित रखा गया है। इन दोनों सड़क के किनारे किसी भी प्रकार के वाहन की पार्किंग शाम तक वर्जित है। वैसे वाहनों की आवाजाही पर कोई रोक नहीं है।

मगर, फिर भी अन्य दिनों की तुलना में इस दिन शहर में वाहनों की आवाजाही कम, लगभग आधी है। इस वजह से आम लोगों को यातायात में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मंत्री अरूप विश्वास पहले ही कह चुके हैं कि महाजुलूस के चलते शहर में यातायात प्रभावित होगा उसके लिए हम आम लोगों के समक्ष क्षमाप्रार्थी हैं। इस दिन, दिन के लगभग डेढ़-दो बजे महाजुलूस शुरू होगा व लगभग शाम चार बजे संपन्न होगा। तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मंत्री गौतम देव ने कहा है कि यह सिलीगुड़ी के इतिहास में अब तक का सबसे ऐतिहासिक महाजुलूस होगा। इसमें कम से कम पांच लाख लोग सम्मिलित होंगे। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस