हैदराबाद,पीटीआइ। वाईएसआर कांग्रेस के प्रमुख वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने मंगलवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू पर गंभीर आरोप लगाए। रेड्डी ने मुख्यमंत्री नायडू पर अपने कार्यालय का 'दुरुपयोग' करने का आरोप लगाते हुए राज्यपाल से उनके पार्टी कैडर पर 'बढ़ते हमलों' को रोकने, राज्य के धन के 'दुरुपयोग' और ईवीएम की सुरक्षा के लिए हस्तक्षेप करने की मांग की।

राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने के बाद राजभवन में पत्रकारों से रेड्डी ने कहा, 'हमने राज्यपाल इएसएल नरसिम्हन से मिलकर चंद्रबाबू नायडू के खिलाफ शिकायत दर्ज की है, जिन्होंने चुनावों के दौरान तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) की मदद करने के लिए महत्वपूर्ण स्थानों पर अपने आदमी नियुक्त किए और चुनाव के बाद हिंसा करवाई। हमने राज्यपाल से इसपर हस्तक्षेप की मांग की है।'

उन्होंने कहा, 'चंद्रबाबू नायडू ने विपक्षी पार्टी और उसके हमदर्दों को निशाना बनाने के लिए अपने लोगों को पदवृद्धि का लालच दिया है। नायडू अपने लोगों से हमले करवा रहे हैं, अभी बेरोकटोक वाईएसआर कैडर पर हमले बढ़ रहे हैं।'

रेड्डी ने मछलीपट्टनम में हुई एक घटना का हवाला देते हुए मांग की कि ईवीएम को केवल सुरक्षित जगहों पर, अर्द्धसैनिक बल की निगरानी में ही रखा जाए। बता दें कि मछलीपट्टनम में एक घटना के दौरान कुछ लोगों ने कथिततौर पर कमरे के दरवाजे को तोड़कर ईवीएम के साथ छेड़छाड़ करने का प्रयास किया।

उन्होंने कहा कि आम चुनाव से पहले मंजूर किया गया बजट वोट-ऑन-अकाउंट था और यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि वह (नायडू) बजट का 'दुरुपयोग' न कर पाएं। बता दें कि पिछले सप्ताह हुए विधानसभा और लोकसभा चुनावों के दौरान राज्य में चुनाव संबंधी हिंसा में तीन लोग मारे गए थे। 

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस