लखनऊ, जेएनएन। चीन से निकलकर विश्व भर में कहर बने कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। कोरोना वायरस के इस कहर यानी स्टेज टू से थ्री तक बढऩे को रोकने के लिए सभी ने कमर कस ली है। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के खिलाफ संघर्ष में सभी दल के नेता एकजुट हो गए हैं। दलगत राजनीति से ऊपर उठते हुए सभी ने अपनी-अपनी सांसद तथा विधायक निधि का कोष कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए खोल दिया है।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम तथा विधान परिषद सदस्य केशव प्रसाद मौर्य ने अपना एक माह का वेतन तथा एक करोड़ रुपया कोरोना महामारी से निपटने के लिए देने का एलान किया। मथुरा की सांसद हेमा मालिनी ने जिले की स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सांसद निधि से एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। वहीं प्रतापगढ़ के कुंडा से विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने भी एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। 

अम्बेडकरनगर से बहुजन समाज पार्टी के सांसद रितेश पाण्डेय तथा मुजफफरनगर से भाजपा सांसद व केंद्रीय मंत्री डॉ. संजीव बालियान ने अपनी निधि से 50-50 लाख रुपया कोरोना वायरस के बचाव की खातिर प्रदान किया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा मैनपुरी से समाजवादी पार्टी के सांसद मुलायम सिंह यादव, मोहनलालगंज के भाजपा सांसद कौशल किशोर तथा अपना दल से मिर्जापुर से सांसद अनुप्रिया पटेल ने 25-25 लाख रुपया सांसद निधि से प्रदान करने की घोषणा की है।

योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री तथा मुजफफरनगर से विधायक कपिलदेव अग्रवाल, बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी तथा सपा से विधान परिषद सदस्य वासुदेव यादव ने 25-25 लाख रुपया प्रदान करने की घोषणा की है। कैबिनेट मंत्री देवरिया के पथरदेवा से विधायक सूर्य प्रताप शाही और फर्रुखाबाद से भाजपा के विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी ने ने 20 -20 लाख रुपया प्रदान करने की घोषणा की है।

पीलीभीत के विधायक संजय गंगवार ने 10 लाख रुपए तथा एक माह का वेतन दिया। बदायूं के विधायक महेश गुप्ता की विधायक निधि से एक लाख रुपया की राशि कोरोना आपदा राहत के लिए मुख्यमंत्री कोष में भेजी गई है। कौशांबी के चायल ने चायल से भाजपा विधायक संजय गुप्ता ने अपनी निधि से दस लाख रुपये जिलाधिकारी को दिया। कांग्रेस से विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह तथा इटावा भरथना की विधायक सावित्री कठेरिया ने अपनी विधायक निधि से 10 लाख रुपया मास्क और सेनेटाइजर खरीदने के लिए दिया है। पूर्व कैबिनेट मंत्री तथा जौनपुर के मल्हनी से समाजवादी पार्टी के विधायक मल्हनी पारसनाथ यादव ने अपनी विधायक निधि से 15 लाख रुपया दिया है। मुजफफरनगर के पुरकाजी से भाजपा विधायक प्रमोद उटवाल वाल्मिकी ने 25 लाख रुपया प्रदान किया है। मुजफफरनगर के खतौली से विधायक विक्रम सैनी ने अपनी विधायक निधि से 25 लाख रुपए और एक माह का वेतन करोना वायरस को रोकथाम के लिए देने की घोषणा की है।

गाजीपुर के जंगीपुर विधायक वीरेंद्र यादव ने विधानसभा क्षेत्र जंगीपुर एवं गाजीपुर में कोरोना की रोक थाम के लिए सेनेटाइजर मास्क एवं अन्य जरूरी सामान मंगाने के लिए जिला अधिकारी कोष में दस लाख रुपया दिया है।प्रतापगढ़ के सांसद संगम लाल गुप्ता ने मास्क, सेनेटाइजर, दवाओं और अन्य चिकित्सकीय संसाधनों के लिए सांसद निधि से 15 लाख रुपया दिया है। प्रतापगढ़ के रानीगंज से भाजपा विधायक धीरज ओझा ने विधायक निधि से दस लाख रुपये अवमुक्त किया है। 

जौनपुर से विधान परिषद सदस्यबृजेश कुमार सिंह प्रिंशु तथा चंदौली जिले के सैयदराजा से विधायक सुशील सिंह ने 20-20 लाख रुपया मुख्यमंत्री कोष में देने हेतु संस्तुति की है। समाजवादी पार्टी के एमएलसी हीरालाल यादव ने भी कोरोना की रोकथाम के लिए अपनी निधि से 25 लाख रुपया देने का एलान किया है। अम्बेडकर नगर के टांडा से विधायक संजू देवी ने विधायक निधि से टांडा विधानसभा क्षेत्र को 10 लाख की स्वीकृति प्रदान की है। हरदोई के सवायजपुर विधायक कुंवर माधवेंद्र प्रताप सिंह रानू ने विधायक निधि से स्वास्थ्य विभाग हरदोई को दस लाख रुपया प्रदान दिया है। इटावा के जसवंतनगर से समाजवादी पार्टी के विधायक तथा प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने भी पांच लाख रुपया प्रदान किया है। 

कैराना से लोकसभा सांसद प्रदीप चौधरी ने अपनी निधी से 25 लाख रुपये कोरोना वायरस से बचाव के लिए राहत कोष में दिए। इसी प्रकार लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र से विधायक जय देवी ने भी 25 लाख रुपये बचाव के लिए राहत कोष में दिए हैं।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस