लखनऊ, जेएनएन। कोरोना से जंग में दैनिक जागरण ने अपने दायित्व को जिस तरह निभाया है, मंगलवार को मीडिया से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सराहना की। सीएम योगी के समक्ष जागरण के संपादकीय प्रभारियों और वरिष्ठ सहयोगियों ने कई सुझाव भी रखे, जिस पर उन्होंने तत्काल अमल किए जाने के निर्देश जारी किए। मीडिया के प्रयासों की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना एक ऐसी महामारी है, जिसके आगे आज के समय में विज्ञान भी फेल है। अफवाहों के प्रचार प्रसार को रोकने में मीडिया मदद करे। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार शाम उत्तर प्रदेश के सभी जिलों के प्रमुख अखबारों और टीवी चैनलों के मीडियाकर्मियों से रूबरू हुए। कोरोना से जंग में प्रदेश सरकार की अब तक की कवायद के बारे में जानकारी देने के बाद उन्होंने नोएडा, लखनऊ, बनारस, कानपुर, आगरा, गोरखपुर और प्रयागराज के वरिष्ठ सहयोगियों से सीधे बातचीत की।

दैनिक जागरण की ओर से नोएडा के मुख्य संवाददाता आशुतोष अग्निहोत्री ने सुझाव दिया कि सामाजिक संस्थाओं द्वारा की जा रही मदद को प्रशासन स्तर पर केंद्रीयकृत किया जाए, जिससे सड़कों पर भीड़ न लगे। गौतमबुद्ध नगर के बारे में विशेष रूप से कहा कि यह सोसायटियों का शहर है। यहां आनलाइन डिलीवरी की व्यवस्था मजबूत हो, ताकि लोग घरों से न निकलें। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तुरंत पुलिस कमिश्नर व जिलाधिकारी को इस पर अमल कराने के निर्देश दिए।

कानपुर के संपादकीय प्रभारी नवीन पटेल ने आवश्यक सामग्री का निर्माण करने वाली इकाइयों का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि इस समय स्वास्थ्य सुरक्षा उपकरणों व सैनिटाइजर की बहुत जरूरत है। इनका निर्माण करने वाली संस्थाओं व इकाइयों को प्रोत्साहन मिलना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर भी सहमति दी।

आगरा के संपादकीय प्रभारी उमेश शुक्ल ने कहा कि अपना देश आस्थाओं का देश है। विपत्ति में हर व्यक्ति मदद करने के लिए अलग भूमिका में आना चाहता है। लोग घर से पका हुआ खाना लेकर आते हैं, उसमें सबको छूट नहीं मिलनी चाहिए अन्यथा वायरस और अधिक फैलेगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसकी मॉनीटरिंग हो रही है। वाराणसी के संपादकीय प्रभारी मुकेश कुमार ने कहा कि प्रदेश के सिर्फ 37 जिलों मे ही पॉजिटिव केस मिले हैं, ऐसे में बाकी जिलों में एहतियात बरतते हुए कुछ शर्तों के साथ लॉकडाउन खत्म किया जा सकता है। इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनता का स्वास्थ्य सर्वोपरि है, इसे ध्यान में रखते ही कोई फैसला किया जाएगा।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस