जेएनएन, चंडीगढ़/नई दिल्‍ली। चाैटाला परिवार में विवाद को सुलझाने की कोशिशें तेज  हो गई हैं। पूरे मामले में नया मोड़ आता दिख रहा है। बुधवार दोपहर दुष्‍यंत चौटाला आैर दिग्विजय चौटाला ने दादा आेमप्रकाश चौटाला से नई दिल्‍ली में मुलाकात की। इस दौरान अभय चौटाला भी मौजूद रहे। दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ने ओमप्रकाश चौटाला के समक्ष अपने पक्ष रखे। दादा और चाचा से मुलाकात के बाद दुष्‍यंत व दिग्विजय पिता डॉ. अजय चौटाला से मिलने तिहाड़ जेल पहुंचे।

चौटाला परिवार में कलह को समाप्‍त करने के लिए कई दिनों से कोश्‍ािशें चल रही हैं। इनेलो सुप्रीमो आेमप्रकाश चौटाला को 18 अक्‍टूबर को तिहाड़ जेल वापस जाना है। ऐसे में वह इससे पहले परिवार का विवाद समाप्‍त करना चाहते हैं। इसी कड़ी में आज दुष्‍यंत और दि‍ग्विजय की दादा और चाचा से मुलाकात हुई। जानकारी के अनुसार, दुष्यंत और दिग्विजय चौटाला ने दिल्ली में 11 मीना बाग आवास पर अोमप्रकाश चौटाला से मुलाकात की। इस दौरान अभय चौटाला भी मौजूद थे।

बताया जाता है कि मुलाकात में सभी पहलुओं पर बातचीत हुई। दिग्विजय और दुष्यंत ने दादा के समक्ष पूरे घटनाक्रम पर अपना पक्ष रखा। कहा जा रहा है कि इस दौरान विवाद को समाप्‍त करने के लिए आेमप्रकाश चौटाला ने दोनों पोतों के समक्ष कुछ प्रस्‍ताव भी रखे। पूरे विवाद और इनेलो से निलंबित किए जाने के बाद यह दुष्‍यंत व दिग्विजय की दादा और पोता से पहली मुलाकात है।

दादा ओपी चौटाला और चाचा अभय चौटाला के मुलाकात करने के बाद दोनों भाई पिता डॉ. अजय सिंह चौटाला से मिलने तिहाड़ जेल में पहुंचे। बताया जाता है कि दिग्विजय व दुष्यंत चौटाला ने तिहाड़ जेल में पिता को दादा और चाचा से हुई बातचीत के बारे में जानकारी दी।

बता दें कि इससे पहले परिवार के विवाद को समाप्‍त कराने के लिए आेमप्रकाश चौटाला की तीन बेटियां मंगलवार को सक्रिय हो गई थी। लिया है। तीनों बहने मंगलवार को पूरे मामले पर भाई डाॅ. अजय चौटाला से बातचीत के लिए तिहाड़ जेल पहुंचीं। उनके साथ अभय चौटाला भी थे। हालांकि उनकी मुलाकात नहीं हाे पाई, लेकिन वे आज फिर मिलने की कोशिश कर सकती हैं।

ओमप्रकाश चौटाला की बेटी सुचित्रा सिंह, सुनीता सिंह व अंजली सिंह मंगलवार शाम एक ही कार में सवार होकर अभय चौटाला के साथ तिहाड़ जेल पहुंची। वहां उन्होंने अजय चौटाला से मुलाकात का प्रयास किया। तीनो बहनें जेल के भीतर भी गई, लेकिन किन्ही कारणों से मुलाकात नहीं हो सकी। सूत्रों के अनुसार तीनों करीब 20 मिनट जेल परिसर में रही। इस दौरान अभय चौटाला जेल के बाहर ही रहे।

चौटाला परिवार की कलह पिछले दिनों से ख्‍ुालकर सामने आ गई थी। गोहाना रैली में हुई हूटिंग के बाद ओपी चौटाला अपने पोते  सांसद दुष्यंत चौटाला व दिग्विजय चौटाला को निलंबित कर समूची पार्टी का नए सिरे से गठन कर चुके है। इसके बाद दुष्‍यंत चौटाला अौर उनके भाई दिग्विजय चौटाला खुलकर मैदान में उतर आए।

दुष्यंत चौटाला हरियाणा के विभिन्न जिलों का  दौरा करते हुए फील्ड में में उतर चुके हैं। दुष्यंत हिसार, महेंद्रगढ़ व भिवानी में कार्यकर्ताओं से रूबरू हो चुके हैं। चाचा अभय चौटाला और भतीजे दुष्यंत चौटाला के बीच बढ़ रही खाई को पाटने के लिए देवीलाल परिवार की बेटियां पहली बार सामने आई हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस