लखनऊ, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती बुधवार को पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में संगठन की समीक्षा के अलावा प्रदेश में विधानसभा की 13 सीटों पर होने वाले उपचुनाव की तैयारियों पर भी चर्चा करेंगी। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने और तीन तलाक जैसे मुद्दों पर पार्टी के बदले रुख के बाद बुलाई गई इस बैठक को महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

वहीं प्रदेश अध्यक्ष पद पर मुनकाद अली की तैनाती के बाद यह पहली बड़ी बैठक होगी, जिसमें संगठनात्मक ढांचे में बदलाव और कुछ नेताओं को जिम्मेदारी भी दी जा सकती है। सूत्रों का कहना है कि उपचुनाव के उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा भी संभव है। हमीरपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव का कार्यक्रम जारी हो चुका है। पहली बार उपचुनावों में उतर रही बसपा के लिए सपा से बेहतर प्रदर्शन की असल चुनौती होगी।

उधर, बसपा से गठबंधन टूटने के बाद से सपा की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से नजदीकी बढ़ी है। राष्ट्रीय लोकदल ने सपा से गठबंधन जारी रखने का फैसला किया है। ऐसे में सपा का सुभासपा में मेल होता है तो बसपा की मुश्किलें बढ़ेगी।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस