लखनऊ, जेएनएन। देश की सेना यूं तो कितनी ही बार अपने शौर्य और पराक्रम से भारतवासियों का सीना चौड़ा कर चुकी है, लेकिन मौका उसके 'डेमो' का आया तो वहां मौजूद हर शख्स को रोमांच और गौरव की अनुभूति से भर दिया। खुद को देश का 'चौकीदारट कहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिफेंस एक्सपो में थल सेना, नौ सेना और वायु सेना के 'लाइव डेमो' को इत्मीनान से देखा और हौसलाअफजाई करते रहे कि सरहद के पहरेदार कैसे जांबाज हैं।

राजधानी लखनऊ के वृंदावन योजना परिसर में डिफेंस एक्सपो के शुभारंभ के बाद आधुनिक हथियार और संसाधनों के साथ सेना पराक्रम का लाइव डेमो आयोजित किया गया। एक्सपो का शुभारंभ करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोल्फकार्ट से डेमो स्थल पर पहुंचे।

सबसे पहले आठ हजार फीट की ऊंचाई से हेलीकॉप्टर से वायुसेना की आकाशगंगा टीम के पैराट्रूपर्स कूदे। तिरंगा लहराते हुए उन्होंने जमीन पर पैर रखा तो परिसर तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। इसके बाद बारी-बारी से लड़ाकू विमानों ने साहस और तकनीक का आकाश छू लेने का संदेश दिया।

भारतीय वायुसेना के भारी भरकम ट्रांसपोर्टर विमान सी-17 ग्लोब मास्टर की अगवानी दोनों तरफ चल रहे सुखोई सू-30 विमानों ने की। स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस की फार्मेशन के साथ सूर्य किरण की टीम ने कई शानदार करतब दिखाए। तब माहौल ऐसा बन गया कि आसमान से नजरें हटाने का दिल ही न हो।

इसी बीच वह चिनूक हेलीकॉप्टर गुजरा, जो आतंकी सरगना ओसामा बिना लादेन को मारने वाले ऑपरेशन में शामिल था और अब भारतीय वायुसेना के बेड़े में है। इसे आम जन भी पहचान गए और देखते ही तालियां भी बजाईं।

इस फ्लाई पास्ट के बाद थलसेना के स्वदेशी टैंक अर्जुन व टी-90 जैसे टैंकों की बमबारी की गूंज ने दिल की धड़कनें बढ़ा दीं।

थलसेना के शौर्य के साथ ही गोमती रिवर फ्रंट से नौसेना के जवानों ने अपने साहस, ताकत और तकनीक का प्रदर्शन किया, जो स्क्रीन पर प्रधानमंत्री ने देखा।

मोदी ने खुद भी साधा निशाना

लाइव डेमो से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने एक्सपो में लगे इंडिया पैवेलियन का निरीक्षण किया। यहां प्रदर्शित किए गए आधुनिक हथियारों की जानकारी ली। इसी बीच एक राइफल हाथ में लेकर वहां बनाई गई वर्चुअल फायर स्क्रीन पर उन्होंने एक के बाद एक कर कई निशाने भी साधे।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस