जमशेदपुर, जासं।  Jharkhand Politics विधानसभा चुनाव के नतीजों से मिले ‘क्लोरोफिल’ से कांग्रेस में थोड़ी जान आई है। पार्टी के बड़े नेताओं से लेकर निचले स्तर के कार्यकर्ता तक में एक सकारात्मक ऊर्जा का संचार हुआ प्रतीत हो रहा है। सांगठनिक रूप से ‘कमजोर’ नजर आ रही पार्टी कोल्हान में सत्ता की संजीवनी से एक बार फिर से पूरी ताकत से खड़ा होना चाह रही है।

इस प्रमंडल में जमशेदपुर पश्चिमी विधानसभा सीट और जगन्नाथपुर विधानसभा सीट से पार्टी के विधायक हैं। इनमें से किसी एक को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की कैबिनेट में जगह मिलने की उम्मीद इस प्रमंडल के नेताओं और कार्यकर्ताओं में जगी है। इतना ही नहीं पूरे सूबे में 16 और कोल्हान में कांग्रेस को दो सीट मिलने से पूरे प्रमंडल के कार्यकर्ता गदगद हैं और संगठन में एक नई जान भी आई है।

कोल्‍हान में मिली है दो सीटें

चूंकि जगन्नाथपुर से कांग्रेस के सोनाराम सिंकू पहली बार चुनाव जीते हैं और बन्ना गुप्ता जमशेदपुर पश्चिमी से दूसरी बार। कुछ दिनों के लिए ही सही, बन्ना एक बार मंत्री पद की शोभा बढ़ा चुके हैं। यही कारण है कि संगठन में उच्च पदों पर बैठे कोल्हान के कांग्रेस नेता पार्टी के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह और सह प्रदेश प्रभारी उमंग सिंहार से कोल्हान से हेमंत कैबिनेट में एक विधायक को अनिवार्य रूप से जगह देने की गुहार भी कर चुके हैं।गत 29 दिसंबर को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह के बाद कोल्हान के कांग्रेस नेताओं का एक दल विशेष रूप से आरपीएन और उमंग से मिलकर अपनी मंशा जाहिर कर चुका है। तर्क यह दिया गया कि पार्टी को नये सिरे से मजबूत करने के लिए कोल्हान से कांग्रेस का एक मंत्री होना निहायत ही जरूरी है। दोनों प्रभारियों को यह भी समझाने की कोशिश की गई कि लंबे समय से संगठन में उच्च पदों पर गिने-चुने लोगों के ही जमे होने के कारण भी जंग लग चुकी है और संगठन की धार कुंद हो चुकी है।

15 जनवरी के बाद आकार लेगी हेमंत सरकार 

उम्मीद है कि खरमास खत्म होते ही 15 जनवरी के बाद हेमंत सोरेन की सरकार अपना पूर्ण आकार लेगी। और, इसमें कोल्हान से भी एक विधायक मंत्री के रूप में जगह पाएगा। इसके बाद कोल्हान प्रमंडल के तीनों जिलों के साथ ही पूरे झारखंड में कांग्रेस पार्टी सांगठनिक रूप से अपने आपको मजबूत करने के लिए नये सिरे से जिला, प्रखंड के साथ ही पंचायत व थाना क्षेत्र कमेटियों को गठित करेगी।

प्रभारी व सह प्रभारी से मिलने वालों में ये थे शामिल

पूर्व जिलाध्यक्ष रविंद्र झा उर्फ नट्ट, वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलेश पांडेय, एनएसयूआइ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष परविंदर सिंह, शिबू सिंह, शैलेंद्र सिंह व अतुल गुप्ता आदि कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह व सह प्रभारी उमंग सिंहार से मिलने वालों में शामिल थे।

 

Posted By: Rakesh Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस