गोरखपुर, जेनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि झूठ कांग्रेस के डीएनए का हिस्सा बन चुका है, यही वजह है कि उनके नेता झूठ बहुत ही सफाई से बोलते हैं। और यह सिलसिला कब तक जारी रखेंगे, उन्हें खुद भी पता नहीं। यही वजह है जब प्रधानमंत्री मोदी के साथ मिलकर पूरे देश के लिए राष्ट्र के नवनिर्माण में लगे हैं, वहीं कांग्रेस के नेता देश को बांटने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री रविवार को गोरखपुर विश्वविद्यालय के संवाद में नागरिकता संशोधन विधेयक के पक्ष में चल रहे जनजागरूकता अभियान के तहत आयोजित प्रबुद्धजन सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

अफवाह पर विराम लगाने को आगे आएं प्रबुद्धजन

उन्होंने प्रबुद्धजन से अपील की कि वह विधेयक को लेकर फैलाए जा रहे अफवाह पर विराम लगाने के लिए आगे आएं। कांग्रेस और विपक्षी दलों के झूठ का पर्दाफाश करें। योगी ने कहा कि कांग्रेस, सपा, तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टियां विधेयक को लेकर अफवाह फैला रही हैं और हिंसा को बढ़ावा दे रही हैं। यह पार्टियां साम्यवाद के उस सिद्धांत का अनुसरण कर रही हैं, जिसमें कहा गया है कि एक झूठ को सौ बार बोलने से वह सच लगने लगता है। दरअसल, ये पार्टियां राष्ट्र विरोधी अराजक तत्वों के साथ मिलकर विधायिका का चुनौती दे रही हैं।

सपा सुप्रीमों पर कसा तंज

बिना नाम लिए एनपीआर का फार्म न भरने को लेकर सपा नेता अखिलेश यादव पर तंज करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग संसद में बैठकर देश की सेवा और रक्षा का संकल्प लेते हैं, वही बाहर आकर देश की कीमत पर राजनीति करते हैं। दरअसल, ऐसे लोगों को आगे आकर प्रधानमंत्री मोदी का अभिनंदन करना चाहिए। संगोष्ठी में हिस्सा लेने से पहले मुख्यमंत्री ने जनजागरूकता अभियान के तहत आयोजित घर-घर जनसंपर्क अभियान की शुरुआत की। इस क्रम में उन्होंने कैफुलवरा, प्रो. राजाराम यादव, स्व. केबी सिंह और प्रो. अशोक प्रसाद के घर जाकर उनसे नागरिकता संशोधन अधिनियम की जरूरत और खासियत पर चर्चा की।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस