जागरण टीम, साहिबगंज/गोड्डा : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को साहिबगंज के एसएस हाई स्कूल बरहेट मैदान व गोड्डा बोआरीजोर के भालगोड़ा मैदान में लोगों को संबोधित किया। कहा कि राज्य में सुखाड़ की स्थिति गंभीर है। धान की खेती नहीं हो पाई है। बावजूद लोग चिंता न करें। सरकार हर सुख-दुख में आपके साथ है। पूर्व की सरकारों के पास लक्ष्य ही नहीं था। अब हम काम कर रहे तो विपक्ष का माथा खराब है। पागलों की तरह हमला बोल रहा है।

सिदो कान्हू तथा चांद भैरव की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कहा कि एक साल से विकास के काम हो रहे हैं। इनकी गति और तेज होगी। उन्होंने कहा कि 20 साल में राज्य किस दिशा में जाएगा, इस पर योजना भी नहीं बनी थी। कर्मियों से सरकार काम ले रही थी, उनके दर्द पर मरहम नहीं लगाया जा रहा था। उनकी समस्याओं को दूर किया, पुरानी पेंशन योजना शुरू की। सेविका-सहायिका का मानदेय बढ़ाया। शिक्षकों की समस्या दूर हुई है। अभी बहुत कुछ करना बाकी है।

हेमंत ने कहा कि विपक्ष षड्यंत्र रच रहा है, लेकिन सफल नहीं हो रहा है। 1932 के खतियान पर स्थानीय व नियोजन नीति का प्रस्ताव पारित हुआ तो इनके पेट में दर्द होने लगा। कहने लगे, हमने तो पहले ही कर दिया था। मगर जान लें कि पहले ऐसा हुआ तो कई की जान गई। आज लोग अबीर- गुलाल लगा रहे। भाजपा के लोग हिंदू, मुस्लिम, सिख व ईसाई को लड़ाकर राजनीतिक रोटी सेंक रहे हैं।

बैंकों को आदिवासी मूलवासी विरोधी बता कहा कि ये ऋण नहीं देते। मुख्यमंत्री स्वजरोजगार योजना में बिना गारंटी पहले 50 हजार रुपये तक ऋण मिलता था, अब एक लाख रुपये मिलेंगे। स्वरोजगार कर अपने पैरों पर खड़े हों, बैंक को ठीक कर देंगे। आप करीबी लोगों को गारंटर बनाकर ऋण लीजिए। झारखंड देश का इकलौता राज्य है जहां सर्वजन पेंशन योजना शुरू की। केंद्र ने राशन नहीं दिया तो अपनी ओर गरीबों का ग्रीन कार्ड बनवाया। नेतरहाट के तर्ज पर सभी जिले में एक एक माडल स्कूल खोला जा रहा है। जहां मुफ्त शिक्षा दी जाएगी। कहा कि सरकार ने राज्य के किसान, मजदूर, कर्मचारी, पुलिस कर्मी, शिक्षक, सेविका-सहायिका के लिए अहम फैसले लिए। स्थानीय नीति और नियोजन नीति को लेकर भी सरकार गंभीरता से बढ़ रही है। राजमहल सांसद विजय हांसदा, महागामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह समेत अनेक लोग थे।

सीएम ने दी 374 करोड़ की योजनाओं की सौगात : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को 374 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। साहिबगंज के बरहेट में 167 करोड़ दस लाख की योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। कई को नियुक्ति पत्र भी दिए। वहीं बोआरीजोर के भालगोड़ा मेला मैदान में जनता दरबार सह विकास मेला में 207.59 करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। इसमें 27.34 करोड़ रुपये की योजनाओं का आनलाइन उद्घाटन किया, 180.25 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास। यहां 21 को नियुक्ति पत्र दिए। चार भूमिहीनों को जमीन का पट्टा दिया। 27.01 करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों का वितरण किया।

Edited By: Gautam Ojha