लखनऊ, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती को पार्टी में अनुशासनहीनता तथा पार्टी विरोधी गतिविधि जरा भी बर्दाश्त नहीं है। बीते दिनों एक दर्जन से अधिक लोगों को पार्टी से बाहर किया गया है। शुक्रवार को लोकसभा प्रत्याशी रहे सीएल वर्मा की छुट्टी कर दी गई।

लोकसभा चुनाव 2019 में लखनऊ जिले के मोहनलालगंज सुरक्षित सीट से सपा व बसपा के प्रत्याशी रहे सीएल वर्मा के खिलाफ पार्टी ने बड़ी कार्रवाई की है। बसपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी के बेहद करीबी रहे सीएल वर्मा को बसपा ने बीते लोकसभा चुनाव में अपना प्रत्याशी बनाया था।

लखनऊ जिले के मोहनलालगंज लोकसभा सुरक्षित क्षेत्र से बसपा-सपा के प्रत्याशी रहे सीएल वर्मा बसपा सरकार के कार्यकाल में नसीमुद्दीन सिद्दीकी के ओएसडी थे। प्रदेश सरकार में क्लास थ्री कर्मी से राजनीति में कूदने वाले वर्मा को बसपा ने अनुशासनहीनता तथा पार्टी विरोधी गतिविधि में लिप्त होने के आरोप में बसपा ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है।

बसपा लखनऊ के जिलाध्यक्ष डॉ. हरिकृष्ण गौतम के अनुसार लंबे समय से पार्टी विरोधी गतिविधि में लगे सीएम वर्मा को काफी चेतावनी दी गई। इसके बाद भी उनके आचरण में कोई सुधार नहीं आया तो उनको पार्टी से बाहर कर दिया गया है।  

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस