चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले सियासी तोड़फोड़ और जोड़तोड़ का खेल जबरदस्‍त तरीके से चलेगा। मुख्‍यमंत्री मनोहरलाल और उनकी टीम ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा 75 विधानसभा सीटें जीतने का लक्ष्य यानि मिशन 75 हासिल करने की दिशा में कदम बढ़ा दिए हैं। मंडल और बूथ स्तर के कार्यक्रम निर्धारित करने के बाद टीम मनोहर की निगाह अब दूसरे राजनीतिक दलों के उन विधायकों पर है, जिनमें भाजपा के टिकट पर चुनाव जीतने का माद्दा है। इनेलो, कांग्रेस और जननायक जनता पार्टी समर्थित ऐसे तमाम विधायकों को देर-सबेर भाजपा में एंट्री दिलाने का रास्ता तैयार किया जा रहा है।

कांग्रेस, इनेलो और जजपा समर्थित कई विधायक भाजपा के संपर्क में

राज्य में पिछले दो माह के अंतराल में एक दर्जन से अधिक विधायक, पूर्व मंत्री और पूर्व विधायक भाजपा का दामन थाम चुके हैं। सबसे अधिक टूट फूट प्रमुख विपक्षी दल इनेलो में हुई है। इनेलो के पास कभी 19 विधायक हुआ करते थे। इनमें से चार विधायक जननायक जनता पार्टी के पास चले गए, जबकि दो विधायकों का निधन हो चुका है। इनेलो के पास अब मात्र आठ विधायक बचे हैं। बाकी भाजपा अथवा कांग्रेस ज्वाइन कर चुके है। कांग्रेस विधायकों की संख्या 17 है। इनमें 13 विधायक पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के समर्थक हैं, जबकि जजपा के पास वे चार विधायक हैं, जो इनेलो से टूटकर आए हैं।

चुनाव तक माहौल बनाने के लिए मौका देखकर ऐसे नेताओं की भाजपा में होगी एंट्री

मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला की टीम दूसरे दलों के उन विधायकों को लगातार पार्टी ज्वाइन करा रहे, जिनके भाजपा में आने का राजनीतिक फायदा मिल सकता है। दो दिन पहले ही फतेहाबाद के विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया को भाजपा में शामिल किया गया। इसके बाद रविवार को चौटाला सरकार में मंत्री रह चुके जेपी नायर जजपा से भाजपा में शामिल हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: Kathua Case Verdict: कठुआ दुष्‍कर्म मामले में तीन को आजीवन कारावास, तीन को 5-5 साल कैद

दरअसल, भाजपा दूसरे दलों के इन विधायकों को एकदम पार्टी में शामिल करने की बजाय धीरे-धीरे एंट्री कराएगी, ताकि विधानसभा चुनाव तक एक माहौल बना रहे। मुख्यमंत्री जिस भी जिले में जाएंगे, वहां संबंधित विधायक, पूर्व मंत्री, पूर्व सांसद अथवा पूर्व विधायकों को भाजपा में ज्वाइन कराया जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद हरियाणा भाजपा की कोर ग्रुप की बैठक के बाद यह संकेत दिए हैं कि उनके संपर्क में इनेलो, कांग्रेस और जजपा समर्थित कई विधायक हैं। उन्हें समय, माहौल और परिस्थितियों के हिसाब से भाजपा में ज्वाइन कराया जाएगा।

यह भी पढ़ें: EVM पर दुष्‍यंत चौटाला का बड़ा बयान, कहा- सवाल उठाकर नेता कर रहे जनमत का अपमान

-----

'' हरियाणा में आज भाजपा के हक में पूरा माहौल है। प्रदेश की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली सरकारों में अपनी आस्था जताई है। लोग सरकार के काम और नीतियों से खुश हैं। दूसरे दलों के कई नेता, विधायक और पूर्व मंत्री फिलहाल मुख्मयंत्री मनोहर लाल, प्रदेश प्रभारी डा. अनिल जैन और प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के संपर्क में हैं। मुख्यमंत्री उचित समय आपने पर साफ छवि के नेताओं को ही पार्टी में एंट्री दिए जाने के हक में हैं।

                                                                                 - राजीव जैन, मीडिया एडवाइजर, सीएम हरियाणा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप