जयपुर, राज्य ब्यूरो। डेढ़ माह तक चले इस सियासी संकट और  तीन दिन के संक्षिप्त विधानसभा सत्र के बाद राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ सड़क पर हल्ला बोल की तैयारी में है। पार्टी ने इसके लिए तीन कार्यक्रम तय किए हैं जो 28 अगस्त से 2 सितंबर के बीच जिलों में आयोजित होंगे। इनमें बढ़े हुए बिजली के बिल और किसानों पर पड़ी टिड्डी दल के हमले की मार सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर पार्टी के कार्यकर्ता, विधायक, सांसद और जनप्रतिनिधि प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही नए प्रवक्ता और पैनलिस्ट भी तय किए गए हैं।

राजस्थान में पिछले डेढ़ माह से सरकार का सियासी संकट चल रहा था। इस दौरान सबका ध्यान सिर्फ राजनीतिक घटनाक्रम पर था। इसके बाद 3 दिन का विधानसभा सत्र भी हुआ लेकिन इस विधानसभा सत्र में न प्रश्नकाल हुआ न शून्यकाल। वैसे भी यह सत्र सिर्फ सरकार के विश्वास मत के लिए ही बुलाया गया था। इसमें एक दिन कोरोना की स्थिति पर चर्चा तो हुई लेकिन वह हंगामे की भेंट चढ़ गई। ऐसे में जनता के मुद्दे उठाने का मौका विधायकों को नहीं मिला। अब विपक्षी पार्टी होने के नाते भाजपा जनता से जुड़े विभिन्न मुद्दों को आंदोलन के जरिए गहलोत सरकार के खिलाफ हल्ला बोल की तैयारी कर रही है। पार्टी ने रविवार को हुई प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में इसका निर्णय किया था।

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और भाजपा विधायक रामलाल शर्मा ने बताया कि आगामी 28 अगस्त को भाजपा से जुड़े तमाम कार्यकर्ता और नेता प्रदेश के बिजली कार्यालय में पहुंच कर बढ़े हुए बिलों सहित कई समस्याओं को लेकर ज्ञापन देंगे और कार्यालय के बाहर धरना देंगे।

31 मार्च को प्रदेश के तमाम उपखंड अधिकारियों को क्षेत्र की स्थानीय समस्याओं को लेकर भाजपा कार्यकर्ता और नेता ज्ञापन देंगे। इसके बाद आगामी 2 सितंबर को भाजपा के विधायक, पूर्व विधायक, सांसद, जिला पदाधिकारी जिला कलक्टरों को जिले से जुड़ी समस्याओं और उसके समाधान के लिए ज्ञापन देंगे और प्रदर्शन करेंगे।

आंदोलन के अलावा मीडिया में सरकार को घेरने के लिए भी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने नए प्रवक्ता और पैनलिस्ट तय किये हैं। इनमें अनिता भदेल, अभिषेक मटोरिया को प्रदेश प्रवक्ता, सुमित गोदारा, अभिनेष महर्षि, डाॅ. ज्योति किरण शुक्ला, लक्ष्मीकान्त भारद्वाज, पंकज जोशी, अमित गोयल, मुकेश पारीक, अभिमन्यु सिंह राजवी, फतेह सिंह डोई, पुनीत कर्णावट, राखी राठौड़, पंकज मीणा, वासुदेव देवनानी, बी.पी. सारस्वत, निमिषा गौड़, आशीष चतुर्वेदी, अविनाश गहलोत, छगनसिंह राजपुरोहित, डाॅ. प्रियंका चैधरी व सांवलाराम देवासी को प्रदेश पैनालिस्ट मनोनीत किया है।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस