कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल में विरोधी दलों, विशेषकर भाजपा को धमकाने वाले तृणमूल कांग्रेस के नेताओं की फेहरिस्त में विधायक इदरिस अली का नाम जुड़ गया है। मुर्शिदाबाद जिले की भगवानगोला सीट से विधायक इदरिस अली ने कहा कि तृणमूल में शामिल सभी को चोर कहने वाले भाजपा नेताओं की जीभ काट दी जाएगी सीबीआइ-ईडी भाजपा के इशारे पर चल रही है, जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

इदरिस अली ने आगे कहा कि ईमानदारी की प्रतीक ममता बनर्जी के निर्देश देने पर बंगाल थम जाएगा। भाजपा को बंगाल और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश छोडना पड़ेगा। इससे पहले वरिष्ठ तृणमूल सांसद सौगत राय ने कहा था कि जो पार्टी की ज्यादा आलोचना करेंगे, उनके चमड़े की खाल से जूते बनवाएंगे। वहीं पार्टी विधायक मदन मित्रा ने तृणमूल कार्यकर्ताओं को आलोचकों को लाठी से जवाब देने को कहा था। मदन ने यहां तक कहा था कि लाठियों की व्यवस्था वे कर देंगे।

इससे पहले उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष को सीधे तौर पर धमकी देते हुए कहा था कि वे ज्यादा बातें न करें, वरना ऐसी स्थिति आ जाएगी कि उन्हें कमर में रस्सी व गले में बेल्ट बांधकर घुमाना पड़ेगा।

इसी तरह तृणमूल सांसद कल्याण बनर्जी ने कहा था कि पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने 'बदला नय, बदल चाई' (बदला नहीं, बदलाव चाहिए) का नारा दिया था। दरअसल उन्होंने गलती की थी। उन्हें बदला चाई कहना चाहिए था। तृणमूल विधायक असित मजुमदार ने कहा कि तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी के बारे में दुष्प्रचार करने वालों की धुलाई की जाएगी। वहीं बीरभूम जिले के तृणमूल नेता दुलाल राय ने चेतावनी दी कि अनुब्रत मंडल की गिरफ्तारी की खुशी में अगर कोई गुड़-बताशा बांटेगा, तो उसकी पीठ पर डंडे पड़ेंगे। 

Edited By: Ashisha Singh Rajput