कोलकाता,एएनआइ। लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा और पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी टीएमसी के बीच शुरू हुआ राजनीतिक विवाद अभी तक थमा नहीं है। इसी बीच टीएमसी के कुछ नेता और कार्यकर्ताओं ने भाजपा में शामिल हो गए हैं।  शनिवार को भाजपा द्वारा जोगदान मेले का आयोजन किया गया था, इस दौरान पश्चिम बंगाल के पार्टी अध्यक्ष दिलीप घोष की मौजूदगी में ये नेता भाजपा में शामिल हुए हैं।

इस कार्यक्रम में शामिल होने से पहले 20 भाजपा कार्यकर्ताओं को अस्पताल में भर्ती किया गया था। दरअसल, जब वह सभी कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए जा रहे थे, तब अनजान लोगों ने उनपर हमला कर दिया। गौरतलब है कि इससे पहले TMC के विधायक विल्सन चांपरामैरी और दक्षिण दिनाजपुर की एक स्थानीय इकाई की अध्यक्ष समेत कई अन्य पार्टी नेता भी भाजपा में शामिल हो गए थे। भाजपा मुख्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय, पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष तथा पार्टी महासचिव और राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्टी में शामिल हुए थे। ॉ

पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव में अहम भूमिका निभाने वाले मुकुल रॉय ने कहा था कि आज टीएमसी के लिए राजनीतिक भूकंप आया है। गौरतलब है कि राय बीजेपी की बंगाल लोकसभा चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक थे और उन्होंने टीएमसी के नाराज नेताओं को भाजपा ज्वाइन करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।पश्चिम बंगाल में पहली बार भगवा रंग लगराया था। भाजपा ने राज्य की कुल 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटों जीत हासिल की थी। वहीं टीएमसी को 22 सीटों पर संतोष करना पड़ा था। वहीं, 2014 में भाजपा को कुल 2 सीटें मिली थी।  

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप