नई दिल्ली, एएनआई। चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के साथ तेलंगाना के विधानसभा चुनाव नहीं होंगे। शनिवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार ने इन बातों से साफ इनकार कर दिया कि चार राज्यों (मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और राजस्थान) में होने वाले चुनावों के साथ तेलंगाना विधानसभा का चुनाव नहीं होगा। इसके पहले मीडिया में खबरें आयीं थीं कि मौजूदा समय में होने वाले चार राज्यों के चुनावों के साथ तेलंगाना के विधानसभा चुनाव भी होंगे। चुनाव आयोग के सीईओ रजत कुमार ने ऐसी खबरों को पूरी तरह से कोरी अफवाह बताया।

आपको बता दें कि तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने  7 सितंबर को इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद राज्यपाल ई॰एस॰एल नरसिम्हन ने विधानसभा भंग कर दी जिसके बाद से केसीआर कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर राज्य का कार्यभार देख रहे हैं।

        चुनाव आयोग का प्रेस नोट 

हालांकि अभी 2 दिन पहले गुरूवार को ही चुनाव आयोग ने कहा था कि अगर किसी राज्य में समय से पहले विधानसभा भंग हो जाती है तो वहां तुरंत आदर्श आचार संहिता लागू हो जाएगी। इसके बाद राज्य की कार्यवाहक सरकार किसी भी नई योजना का एलान नहीं कर सकती।

अब चुनाव आयोग ने यह स्पष्ट कर दिया कि कुछ समय बाद होने वाले चार राज्यों के विधानसभा चुनावों के साथ तेलंगाना में चुनाव नहीं कराए जाएंगे। आपको बता दें तेलंगाना के कार्यवाहक सीएम के चंद्रशेखर राव ने समय से पहले विधानसभा भंग कर दी थी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021