हैदराबाद, एएनआइ। तेलंगाना में आयकर अधिकारी रत्नाकर ने श्रम और रोजगार मंत्री मल्ला रेड्डी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आयकर अधिकारी का कहना है कि मंत्री मल्‍ला रेड्डी ने एक केस से जुड़े सबूत हैदराबाद में आईटी ऑफिसर्स से छीन लिए। इधर मंत्री मल्‍ला रेड्डी के बेटे ने भी आयकर अधिकारी के खिलाफ एक मामला दर्ज कर दिया है। पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों के आरोपों के आधार पर अलग-अलग मामले दर्ज कर लिए गए हैं।

मंत्री और TI अधिकारी ने एक-दूसरे पर दर्ज कराए केस

इंस्पेक्टर बोवेनपल्ली पीएस के रवि कुमार ने बताया कि तेलंगाना के मंत्री मल्ला रेड्डी के बेटे भद्रा रेड्डी ने बोवेनपल्ली पुलिस स्टेशन में आयकर अधिकारी रत्नाकर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। शिकायत में कहा गया है कि डंडीगुल सीमा अस्पताल में उनके भाई के हस्ताक्षर जबरदस्ती लिए गए। आईपीसी की धारा 384 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। हम मामले की जांच शुरू हो गई है। दूसरी ओर आयकर अधिकारी रत्नाकर ने मंत्री मल्ला रेड्डी के खिलाफ एक शिकायत दी है, जिसमें उन्होंने कहा कि मंत्री ने हैदराबाद में आईटी अधिकारियों से जबरदस्ती लैपटॉप, मोबाइल फोन और सबूत छीन लिए। इस शिकायत के आधार पर भी मामला दर्ज कर लिया गया है।

तेलंगाना के मंत्री मल्ला रेड्डी के करीबियों के ठिकाने भी रडार में

तेलंगाना के श्रम और रोजगार मंत्री मल्ला रेड्डी और उनके परिवार के सदस्यों की संपत्तियों पर आयकर विभाग की छापेमारी पिछले तीन दिन से चल रही है। मल्ला रेड्डी विश्वविद्यालय, मेडिकल और डेंटल कॉलेजों और मंत्री के भाई प्रवीण रेड्डी के आवास पर एक साथ छापेमारी की जा रही है। आईटी के अधिकारियों ने मल्ला रेड्डी, उनके बेटों और दामाद के घरों की तलाशी पूरी कर ली है। मल्ला रेड्डी के एक अन्य रिश्तेदार और मल्ला रेड्डी इंजीनियरिंग कॉलेज के निदेशक त्रिशूल रेड्डी के घर पर भी तलाशी ली गई।

आईटी विभाग की 65 टीमें कर रहीं मंत्री के ठिकानों पर छापेमारी

200 से अधिक आईटी अधिकारियों वाली 65 टीमों ने मंगलवार सुबह से हैदराबाद और मेडचल मलकजगिरी जिले में विभिन्न स्थानों पर मल्ला रेड्डी समूह द्वारा संचालित संस्थानों और मंत्री और उनके परिवार के सदस्यों के घरों और कार्यालयों पर छापेमारी की। बुधवार देर रात छापेमारी के दौरान जमकर ड्रामा हुआ। मंत्री ने आईटी अधिकारियों और सीआरपीएफ कर्मियों की कथित मनमानी के खिलाफ विरोध दर्ज कराया। आईटी इस बीच अधिकारियों और मंत्री दोनों ने एक-दूसरे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

Fact Check: हिमाचल और गुजरात चुनाव के Exit Poll पर गुजरात चुनाव के खत्म होने तक प्रतिबंध

Edited By: Tilakraj

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट