जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद के बयान से असहज कांग्रेस जहां पल्ला झाड़ चुकी है, वहीं भाजपा ने हमला तेज कर दिया है। पार्टी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि सलमान ने माना है कि कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के धब्बे लगे हैं। इस सच्चाई की जानकारी देश के अल्पसंख्यकों को पहले से ही है। अब चूंकि सलमान ने भी सार्वजनिक रूप से इसे स्वीकार किया है तो सोनिया गांधी और राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए।

देश में दलित राजनीति इतनी तेज चल रही है कि अल्पसंख्यकों की बातें दब गई थीं। एक दिन पहले खुर्शीद के बयान ने कांग्रेस को वहां लाकर खड़ा कर दिया है जहां उसे अब साथी विपक्षी दलों के साथ गुत्थमगुत्था करना होगा। शाहनवाज ने कहा कि देश के इतिहास में जितने दंगे हुए हैं उसमें कांग्रेस की भूमिका किसी से छिपी नहीं है।

अल्पसंख्यकों में डर बिठाकर उसे किस तरह राजनीति में मोहरे की तरह इस्तेमाल किया गया, यह भी हर कोई जानता है। कांग्रेस धर्मनिरपेक्ष बनने का ठोंग करती है लेकिन सबका साथ सबका विकास कभी भी उसका ध्येय नहीं रहा। अगर ऐसा होता तो सच्चर समिति की जरूरत ही नहीं होती। खुर्शीद भी शायद इस सच्चाई को अब और छिपाने में असमर्थ हो गए थे और कबूल लिया कि कांग्रेस के दामन पर गहरे दाग हैं।

 

Posted By: Bhupendra Singh