नई दिल्ली, प्रेट्र। सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी संसदीय समिति के प्रमुख शशि थरूर ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से एक बार फिर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समिति की बैठक की अनुमति देने मांग की है। कांग्रेस नेता ने इसके लिए ब्रिटेन का उदाहरण दिया है।

बिरला को पत्र लिखकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि कोविड-19 के मामले पिछले कुछ दिनों में तेजी से बढ़े हैं जिससे न सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों, बल्कि आम लोगों की सेहत को लेकर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। थरूर ने कहा कि सांसदों का देश के प्रति उत्तरदायित्व है कि वे अपनी पूरी क्षमता से अपने कर्तव्य का निर्वहन करें। उन्होंने ब्रिटेन की संसद का हवाला देते हुए कहा कि उनकी समिति को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक करने की अनुमति दी जाए। कुछ दिनों पहले भी थरूर ने लोकसभा अध्यक्ष से समिति की बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करने की अनुमति देने का आग्रह किया था।

ओम बिरला और एम वेंकैया नायडू ने संसदीय समिति की बैठक पर किया विचार

वहीं, दूसरी ओर कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर राज्‍यसभा सभापति एम वेंकैया नायडू ने गुरुवार को लोक सभा अध्‍यक्ष ओम बिरला के साथ मौजूदा हालात की समीक्षा की और संसद सदस्‍यों की ओर से निभाई जा रही सक्रिय भूमिका एवं संसदीय समितियों की बैठक की संभावना पर विचार विमर्श किया।

ओम बिरला और वेंकैया नायडू ने दोनों के सदनों के महासचिवों से कहा कि वे संसदीय समिति की बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कराने की संभावना पर विचार करें। कोरोना वायरस संकट के चलते कई सांसद यह मांग कर चुके हैं कि संसदीय समितियों की बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कराई जाए। 

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच 25 मार्च से देश भर में लागू लॉकडाउन के तीसरा चरण चल रहा है। वहीं, कोरोना के संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। भारत में इस बीमारी से अब तक 1783 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 52952 हो गई है। एक्टिव कोरोना केस 35902 हैं। इसमें 15266 मरीज ठीक भी हुए हैं। 

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस