मुंबई, आइएएनएस। बांबे हाई कोर्ट में सीबीआइ के पूर्व विशेष न्यायाधीश बीएच लोया की मौत को लेकर नई जनहित याचिका दायर की गई है। याचिका में अप्रत्याशित रूप से सात सदस्यीय पीठ से सुनवाई कराने की मांग की गई है। यह जानकारी गुरुवार को एक वकील ने दी।

याची संजय आर. भालेराव के वकील नितिन सतपुते ने कहा, 'पूर्व में सुप्रीम कोर्ट में ऐसी पीठों का गठन किया जा चुका है। यदि हमारी प्रार्थना स्वीकार की जाती है तो देश में पहली बार किसी हाई कोर्ट में सात सदस्यीय पीठ गठित की जाएगी।'

जनहित याचिका में 24 प्रतिवादी बनाए गए हैं जिनमें सुप्रीम कोर्ट सेकेट्री जनरल, बांबे हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल, महाराष्ट्र सरकार के सात विभाग और अधिकारी, पुलिस अधिकारी, डॉक्टर और स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) के महानिरीक्षक शामिल हैं।

याचिका ने हाई कोर्ट से अर्जी को प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफआइआर) की तरह लेने का आग्रह किया गया है। इसके साथ ही अपनी निगरानी में जज लोया की मौत की जांच का आदेश देने और तीन सदस्यीय विशेष जांच टीम का गठन करने का अनुरोध किया है।

विशेष जांच टीम में उस राज्य के आइपीएस अधिकारी को लेने के लिए कहा है जहां भाजपा या उसका सहयोगी दल सत्ता में नहीं है।

 

Posted By: Bhupendra Singh