नई दिल्ली, प्रेट्र/एएनआइ। तीन तलाक बिल को केंद्र सरकार एक बार फिर संसद में पेश करेगी। यह कहना है कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का। सोमवार को कार्यभार संभालने के बाद उन्होंने कहा कि तीन तलाक को बैन करने के लिए सरकार हर संभव कदम उठाएगी। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 16वीं लोकसभा में यह बिल राज्यसभा से पास नहीं हो सका था।

जब कानून मंत्री से पत्रकारों ने सवाल किया कि क्या सरकार तीन तलाक बिल को फिर से संसद में पेश करेगी तो उन्होंने कहा कि यह भाजपा के मेनिफिस्टो(manifesto) में है। सरकार हर संभव कोशिश करेगी कि तीन तलाक बिल को संसद से पास कराया जाए। बता दें कि रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को कानून मंत्री के तौर पर अपना कामकाज संभाल लिया। ये बातें उन्होंने कानून मंत्री का पदभार संभालने के बाद कही। 

वहीं केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी सोमवार को सड़क परिवहन और हाइवे मंत्रालय में राज्य मंत्री का कार्यभार संभाला। वीके सिंह का मंत्रालय के अधिकारियों ने स्वागत किया।

उधर, कैबिनेट मंत्री स्मृति ईरानी ने भी महिला एंव बाल विकास मंत्रालय का पदभार संभाल लिया है। इस दौरान विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने मंत्री का स्वागत किया।

केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का कार्यभार संभाल लिया है। वे साइकिल से पदभार संभालने मंत्रालय तक पहुंचे।

डॉ. हर्षवर्धन का स्वागत करने के लिए उनके मंत्रालय के कई अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। 

बता दें कि शुक्रवार को मोदी कैबिनेट के सभी मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया गया था। कुछ मंत्रियों ने शनिवार को ही पदभार संभाल लिया था। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप