राज्य ब्यूरो, मुंबई। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्यक्ष राज ठाकरे ने लोकसभा चुनाव से पहले पुलवामा जैसे एक और हमले की आशंका जताई है। शनिवार को बांद्रा स्थित रंगशारदा सभागार में मनसे के 13वें स्थापना दिवस समारोह पार्टी अध्यक्ष ने अपनी विशेष शैली में भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर प्रहार किए।

राज ठाकरे ने कहा कि 27 दिसंबर, 2018 को भारत के सुरक्षा सलाहकार और पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहकार की गुप्त बैठक बैंकाक में हुई थी। इस बैठक में ऐसा क्या हुआ कि हमारे 40 जवानों को अपनी जान गंवानी पड़ी। उन्होंने कहा कि कि हमने 2015 में ही कह दिया था कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी युद्ध जैसी परिस्थिति का निर्माण कर देंगे। आज मेरी बात सच साबित हो रही है।

भाजपा समर्थकों को आड़े हाथों लेते हुए राज ठाकरे ने कहा कि हमें राष्ट्रभक्ति सिखाने की जरूरत नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी सच्चे राष्ट्रभक्त थे, तो नवाज शरीफ का केक खाने पाकिस्तान क्यों गए? राफेल सौदे पर मनसे नेता ने कहा कि हमें राफेल की क्षमता पर कोई संदेह नहीं है, लेकिन इस सौदे में अनिल अंबानी को क्यों शामिल किया गया? और अब राफेल सौदे के कागज कैसे चोरी हो गए?

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप