नई दिल्ली, प्रेट्र। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को सरकार से संसद का अधिक समय बर्बाद नहीं करने और विपक्ष को महंगाई, किसानों और पेगासस के मुद्दों को सदन में उठाने देने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि भारत के लोकतंत्र की नींव ये है कि सांसद लोगों की आवाज बनें और राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा करें लेकिन केंद्र सरकार ऐसा नहीं होने दे रही है। विपक्षी दल पेगासस जासूसी मुद्दे पर चर्चा और संसद में नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर संसद में हर रोज हंगामा हो रहा है। संसद की कार्यवाही भी बाधित हो रही है।

राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा- हमारे लोकतंत्र की नींव यह है कि सांसद जनता की आवाज बनें और राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा करें। मोदी सरकार विपक्ष को यह काम करने नहीं दे रही है। संसद का अधिक समय बर्बाद न करें, उन्हें महंगाई, किसानों और पेगासस के बारे में बात करने दें।

पेगासस और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर पिछले कई दिनों से संसद के दोनों सदनों में गतिरोध बना हुआ है।119 जुलाई से मानसून सत्र शुरू हुआ था लेकिन अब तक दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित रही है। विपक्षी दलों का कहना है कि पेगासस जासूसी मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए सरकार के तैयार होने के बाद ही संसद में गतिरोध खत्म होगा।

संसद के दोनों सदनों में आज भी हंगामे के आसार

दोंनो सदनों में आज भी विपक्षी दलों द्वारा हंगामे के आसार हैं। राज्यसभा में आज भी विपक्ष कथित जासूसी कांड और किसानों के मुद्दे को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी रख सकता है। विपक्ष के इसी विरोध प्रदर्शन के चलते मानसून सत्र में शुरुआती 8 दिन हंगामे की भेंट चढ़ चुके हैं। हालांकि, पिछले 2 दिनों के दौरान केंद्र सरकार ने विपक्ष के हंगामे के बीच दो बिल जरूर पास करवाए हैं लेकिन सदन की कार्यवाही बार-बार स्थगित हो रही है।

Edited By: Shashank Pandey