भिवानी, एजेंसी। Lok Sabha Election-2019 राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सोमवार को भिवानी में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को बॉक्‍सर बता दिया। कांग्रेस अध्‍यक्ष ने कहा कि बॉक्‍सर नरेंद्र मोदी को बेरोजगारी, किसानों की समस्‍या और भ्रष्‍टाचार से लड़ना था, लेकिन इसके बदले वह मुड़े और अपने कोच लाल कृष्‍ण आडवाणी जी और अपनी टीम के गडकरी व जेटली जी को ही 'मुक्‍का' मार दिया। इसके बाद बॉक्‍सर मोदी भीड़ में गए और छोटे व्‍यापारियों और किसानों को पंच मारा।

राहुल गांधी ने कहा कि पिछले चुनाव में हिंदुस्तान ने रिंग में एक बॉक्सर डाला, नाम नरेंद्र मोदी। 56 इंच की छाती वाला बॉक्सर रिंग में उतरा। दूसरी तरफ रिंग में जो बॉक्‍सर खड़े थे उनमें बेरोजगारी, किसानों की समस्या और छोटे किसान थे। भीड़ में हिंदुस्तान की जनता थी। नरेंद्र मोदी के कोच आडवाणी और नितिन गडकरी समेत उनकी पूरी टीम खड़ी थी। देश ने सोचा बॉक्सर बेरोजगारी से लड़ेगा, किसानों की समस्‍या से लड़ेगा। 15-15 लाख रुपये सबके खातों में डालेगा। 

राहुल ने आगे कहा कि बड़ा धूमधाम हुआ, लाइटें चमकीं, बॉक्सर रिंग में आया, कोच की ओर देखा, आडवाणी जी की ओर देखा और एक घूंसा आडवाणी जी के मुंह पर मारा... भड़ाक, आडवाणी जी चौंके। फिर वो अपनी टीम के पीछे भागा... गडकरी जी, जेटली जी, एक-एक करके सबको मारा, धाड़...धाड़... इसके बाद बॉक्सर रिंग से उतरा, जनता देख रही है कि ये बॉक्सर रिंग से कहां भाग रहा है... इसे तो समस्याओं से लड़ना है। फ‍िर, बॉक्सर भीड़ में घुसा और छोटे दुकानदारों को पकड़ा और मुंह पर दो मारे... धड़ धड़, एक नोटबंदी और दूसरा गब्बर सिंह टैक्स। 

राहुल ने आगे कहा कि फिर बॉक्सर किसानों के पास पहुंचा। किसानों ने कहा, बॉक्‍सर साहब आइये रिंग में... हमारा कर्जा माफ करिये। आपने हमें वाजिब वाजिब दाम देने की बात की थी। फ‍िर... धाड़... धाड़, दो झटके। जनता ने देखा कि इस बॉक्सर को समझ ही नहीं आ रहा है इसको रिंग में किन किन चीजों से लड़ना है। 

गौरतलब है कि इससे पहले भी राहुल ने भाजपा के संस्थापक सदस्यों में शामिल और वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के चंद्रापुर में कहा था, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिंदू धर्म की बात करते हैं, लेकिन हिंदू धर्म में सबसे जरूरी होता है गुरु और पीएम मोदी अपने गुरु आडवाणी के सामने हाथ तक नहीं जोड़ते।' उन्होंने आगे कहा था, 'स्टेज से उठाकर फेंक दिया गुरु को, .... मारकर स्टेज से उतारा है आडवाणी जी को और फिर हिंदू धर्म की बात करते हैं।' राहुल ने इसके बाद सवाल किया कि हिंदू धर्म में कहां लिखा है कि लोगों को मारना चाहिए और हिंसा करनी चाहिए।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस