चेन्नई, एजेंसी। फिल्मों से राजनीति में आए दक्षिण भारतीय सुपरस्टार कमल हासन एक बार फिर विवादों में हैं। एक तरफ देश में Pulwama Terror Attack को लेकर लोगों में रोष है और दूसरी तरफ कमल हासन कश्मीर में जनमत संग्रह कराने की बात कर रहे हैं। यही नहीं अपने बयान में उन्होंने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को 'आजाद कश्मीर' बताया है।

कमल हासन ने एक इंटरव्यू में देश की कश्मीर नीति पर सवाल उठाते हुए पूछा कि सरकार कश्मीर में जनमत संग्रह कराने से क्यों कतरा रही है। बता दें कि कश्मीरी लोग भारत के साथ आना चाहते हैं, पाकिस्तान या फिर अलग देश के रूप में रहना चाहते हैं, इस बारे में जनमत संग्रह की बात कई संगठन उठते रहते हैं। उन्होंने कहा, अगर भारत स्वयं को बेहतर देश के रूप में साबित करना चाहता है तो उसे इस तरह का आचरण नहीं करना चाहिए। दरअसल उनसे पुलवामा में जैश-ए-मुहम्मद के आतंकवादियों द्वारा किए गए हमले पर सवाल पूछा गया था, जिसमें 40 सीआरपीएफ कर्मी शहीद हो गए थे।

चेन्नई में आयोजित एक सभा में बात करते हुए कमल हासन ने कहा, मुझे बड़ा दुख होता है जब लोग कहते हैं कि सैनिक तो कश्मीर मरने के लिए जाते हैं। उन्होंने कहा, सेना भी एक पुराने फैशन की तरह है। जिस तरह से दुनिया बदल रही है, हम यह कैसे तय कर सकते हैं कि इंसान खाने के लिए दूसरे इंसान का कत्ल नहीं करेगा। लड़ाई खत्म करने का भी एक वक्त आएगा। क्या मानव सभ्यता ने पिछले 10 साल में यह सब नहीं सीखा।

दक्षिण भारतीय सुपरस्टार ने कहा, 'जब मैं मैयम मैग्जीन चलाता था, तब भी मैंने कश्मीर के मुद्दे पर काफी कुछ लिखा था। आज मुझे इसलिए रोना आ रहा है क्योंकि मैंने जो भविष्यवाणी की थी वह हो रहा है। काश! मैंने कुछ और ही भविष्यवाणी की होती। कश्मीर में जनमत संग्रह कराएं, लोगों को बात करने की आजादी दें... वे जनमत संग्रह क्यों नहीं कराते? उन्हें किस बात का डर है। वे देश को बांटना चाहते हैं बस और कुछ नहीं।'

Posted By: Digpal Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप