अहमदाबाद, जेएनएन। Lok Sabha Election 2019 में प्रचंड जीत के बाद रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुजरात का दौरा किया। इस दौरान पीएम मोदी ने गांधीनगर पहुंचकर अपनी मां हीराबेन से आशीर्वाद लिया। इससे पहले दोनों हैदराबाद स्थित पार्टी के दफ्तर गए और जनसभा को संबोधित किया। इस जनसभा में भारी तादाद में लोग मौजूद रहे।

जनसभा संबोधित करते हुए मोदी ने कहा 'मैं उस भूमि पर वापस आया हूं जिसने मेरा पालन-पोषण किया है। मैं एक ऐसी जगह पर वापस आ गया हूं, जिसके साथ मेरा बहुत पुराना नाता है। मैं यहां गुजरात के लोगों के दर्शन के लिए आया हूं। इस राज्य के नागरिकों का आशीर्वाद हमेशा मेरे लिए बहुत खास रहा है।'पीएम मोदी के भाषण के समापन के बाद सभा में मौजूद लोगों ने मोबाइल फोन का फ्लैश लाइट जलाकर पीएम मोदी का अभिवादन किया। पीएम मोदी ने इसके बाद हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। 

2014 में गुजरात के विकास मॉडल की वजह से मिली थी जीत
पीएम मोदी ने कहा कि 2014 के चुनाव में देश मुझे नहीं पहचानता था, लेकिन देश गुजरात को पहचानता था। उस समय हवा फैली थी कि गुजरात के गांव गांव में पक्की सड़कें हैं। गुजरात का हर तरह से विकास हुआ। गुजरात के विकास मॉडल की वजह से तब जनादेश मिला था। 2014 में आपने विदा किया, अब आपके दिये संस्कारों को आगे बढ़ा रहा हूं।

मोदी ने कहा, 'मैं सोशल मीडिया पर एक वीडियो देखा था। इस वीडियो में बंगाल की एक महिला मोदी-मोदी चिल्ला रही थी। इसमें वह कह रही थी, मैं गुजरात गई थी और वहां का विकास देखा। ऐसा ही विकास मैं बंगाल में देखना चाहती हूं, लेकिन जब उससे पूछा गया कि वह वोट किसे देगी तो वह कुछ नहीं बोली।'

सूरत हादसे को लेकर दुख जताया
मोदी ने सूरत हादसे को लेकर दुख जताया। उन्होंने इसे लेकर कहा कि इस घटना पर जितना भी दुख जताया जाए, वह कम है। परिवार पर आए संकट के लिए हम ईश्वर से प्रार्थना कर सकते हैं। भगवान परिवार को इस भयंकर आपदा से निपटने की साहस दे। इस घटना पर मेरी लगातार नजर थी। मैं राज्य सरकार से बराबर इसकी जानकारी ले रहा था।

छठे चरण के मतदान के बाद, मैंने कहा था कि यह हमें 300 प्लस सीट मिल रही है। ऐसा कहने पर लोगों ने मेरा मजाक उड़ाया था। अब नतीजे सभी सामने है। हमें इन 5 वर्षों का उपयोग आम नागरिकों के मुद्दों को हल करने के लिए करना है। हमें विश्व स्तर पर भारत को और आगे बढ़ाना होगा। आने वाले पांच साल जन भागदारी और जन चेतना के होने चाहिए।

इससे पहले  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 26 सीटें जीतने के बाद नरेंद्र भाई यहां (गुजरात में) आए हैं, कृपया जोर से उनका स्वागत करें ताकि आपकी आवाज पश्चिम बंगाल तक पहुंच जाए। भाजपा अध्यक्ष होने के नेता मैं गुजरात की जनता का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं। आप सभी को गुजरात की सभी 26 सीटों पर जिताने के लिए शुक्रिया। नरेंद्र भाई के नेतृत्व में राज्य के हर एक गांव तक भाजपा पहुंच गई है।

कश्मीर से कन्याकुमारी तक विकास दिखाई दे रहा है
उन्होंने गुजरात से विकास यात्रा की शुरुआत की और अब इसे पूरे देश तक पहुंचा दिया है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक विकास दिखाई दे रहा है। कभी लोगों को गुजरात आने में डर लगता था, लेकिन मोदी के आने के बाद गुजरात में यह डर खत्म हो गया।

अमेरिका हो या चीन सब मोदी-मोदी चिल्लाते हैं
उन्होंने कहा कि नरेंद्रभाई ने 22 करोड़ घरों तक बिजली पहुंचा दी है। उन्होंने भारत का नाम वैश्विक समुदाय में  बहुत उपर पहुंचा दिया है। अमेरिका हो या चीन, वह जहां भी जाते हैं, लोग मोदी-मोदी चिल्लाते हैं। अमित शाह ने इस दौरान सूरत हादसे में मारे गए छात्रों को श्रद्धांजलि व्यक्त की। साथ ही उन्होंने रैली में मौजूद सभी लोगों से भी मृतकों के लिए प्रार्थना करने को कहा। 

सूरत हादसे के मद्देनजर जीत का जश्न नहीं मनाया
इससे पहले गुजरात भाजपा के प्रमुख जीतू वघानी ने कहा कि सूरत हादसे के मद्देनजर पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को बधाई देने के लिए फूलों के गुलदस्ते या माला का इस्तेमाल नहीं किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि हम इस जीत का जश्न बड़े उत्साह से मनाना चाहते थे, लेकिन सूरत हादसे के कारण हमने ऐसा नहीं किया। इस हादसे के कारण पार्टी नेतृत्व ने हमें ऐसा नहीं करने के लिए कहा है।

सरदार वल्लभभाई पटेल को किया नमन
इससे पहले यहां राज्य के सीएम विजय रूपाणी ने अहमदाबाद एयरपोर्ट पर पीएम मोदी और अमित शाह का स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने अहमदाबद हवाई अड्डे के पास सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सीएम विजय रूपाणी भी मौजूद रहे। चुनाव में जीत के बाद दोनों की यह राज्य की पहली यात्रा है। बता दें कि गुजरात की सभी 26 लोकसभा सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की है।

मां से मिलेंगे के बाद काशी जाएंगे मोदी
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने शनिवार को सुबह ट्वीट कर कहा था, 'अपनी मां का आशीर्वाद लेने के लिए रविवार शाम को गुजरात जाऊंगा। अपना भरोसा मुझ पर जताने के  लिए इस महान भूमि के लोगों को धन्यवाद देने के लिए उसकी अगली सुबह मैं काशी में होऊंगा।'

उल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में भाजपा ने Lok Sabha Election 2019 में अपने बूते 303 सीटों पर जीत दर्ज की है। भाजपा समेत सहयोगी दलों यानी एनडीए ने 352 सीटों पर जीत दर्ज किया है। 

बता दें कि सर्वसम्मति से एनडीए का नेता चुने जाने के बाद नरेंद्र मोदी ने कल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलकर नई सरकार बनाने का दावा पेश किया था। राष्ट्रपति ने उनसे कैबिनेट के अन्य सदस्यों की भी सूची देने का अनुरोध किया। इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री नियुक्त किया। इसके साथ ही उन्होंने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण करने और एनडीए को सरकार बनाने का भी न्योता दिया। इससे पहले नरेंद्र मोदी के एनडीए का नेता चुने जाने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को समर्थन पत्र सौंप दिया गया था। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में एनडीए के नेताओं ने राष्ट्रपति को नरेंद्र मोदी को सर्वसम्मति से  नेता चुने जाने की जानकारी देते हुए यह समर्थन पत्र सौंपा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप