नई दिल्ली, पीटीआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का हालचाल लिया, जो सर्वाइकल स्पाइन सर्जरी से उबर रहे हैं। शिवसेना नेता विनायक राउत ने प्रधानमंत्री को बताया कि 61 वर्षीय ठाकरे की सेहत में सुधार हो रहा है और वह महाराष्ट्र विधानसभा के चल रहे सत्र में शामिल होंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने संसद के शीतकालीन सत्र के समापन के बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ सदन के नेताओं की परंपरागत बैठक के दौरान शिवसेना सांसदों से उद्धव ठाकरे के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी मांगी।

इस बैठक में लोकसभा स्पीकर के कक्ष में प्रधानमंत्री  मेंके अलावा वरिष्ठ मंत्री राजनाथ सिंह और अमित शाह भी मौजूद थे। मंगलवार को ठाकरे ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए राज्य मंत्रिमंडल की बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने सत्र की पूर्व संध्या पर विधायकों के लिए चाय पार्टी में भी भाग लिया। मुख्यमंत्री हाल ही में विधान भवन गए थे, जो सर्जरी के बाद उनकी पहली सार्वजनिक उपस्थिति थी। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद शिवसेना अध्यक्ष ठाकरे अपने आधिकारिक आवास वर्षा से काम कर रहे हैं।

ठीक होने तक अपना प्रभार किसी और को सौंपे

महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष विधायक चंद्रकांत पाटिल ने बुधवार को कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को ठीक होने तक अपना प्रभार किसी और को सौंप देना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान उनकी अनुपस्थिति 'अनुचित' है। पाटिल ने बुधवार को सत्र शुरू होने से पहले विधान भवन के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए यह टिप्पणी की। हालांकि, राज्य के एक मंत्री ने कहा कि सीएम का स्वास्थ्य बेहतर है और किसी और को प्रभार सौंपने की जरूरत नहीं है। महाविकासअघाड़ी परकटाक्ष करते हुए, पाटिल ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री को कांग्रेस और एनसीपी पर भरोसा नहीं है, क्योंकि हो सकता है कि एक बार कुर्सी पर काबिज होने के बाद वे पद छोड़ने से इन्कार कर दें। राज्य मंत्री और उनके बेटे आदित्य ठाकरे को प्रभार दिया जा सकता है।

Edited By: Tanisk