जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले दो महीनों के भीतर तीन अहम विदेश यात्राओं पर होंगे। इस कड़ी में सबसे पहले मोदी इस महीने के अंत में सऊदी अरब की यात्रा पर जाने वाले हैं। यह यात्रा 29 से 31 अक्टूबर, 2019 के बीच होगी जहां वह रियाद में आयोजित होने वाले एक अहम अंतरराष्ट्रीय निवेश सम्मेलन (फ्यूचर इंवेस्टमेंट इनीशिएटिव) में हिस्सा लेंगे।

पीएम मोदी की क्राउन प्रिंस के साथ द्विपक्षीय वार्ता

पीएम मोदी की वहां क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के साथ द्विपक्षीय वार्ता होगी जिसका एजेंडा मुख्य तौर पर आर्थिक हितों से जुड़ा होगा।

अंतरराष्ट्रीय निवेश सम्मेलन में इमरान भी शिरकत करेंगे

इस सम्मेलन में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान भी शिरकत करेंगे, लेकिन भारत व पाकिस्तान के मौजूदा रिश्तों की तासीर को देखते हुए इस बात की उम्मीद कम ही है कि वहां दोनों नेताओं की द्विपक्षीय मुलाकात होगी। कश्मीर में धारा 370 हटाने के फैसले के खिलाफ पाकिस्तान लगातार सऊदी अरब व अन्य मुस्लिम देशों में लॉबिंग कर रहा है। यह भी एक वजह है कि मोदी तकरीबन ढाई महीने बाद फिर से सऊदी अरब जाएंगे।

पीएम मोदी आसियान समिट और ब्रिक्स देशों की बैठक में हिस्सा लेंगे

नवंबर में मोदी दो महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों में हिस्सा लेने के लिए विदेश रवाना होंगे। रियाद के तुरंत बाद मोदी को बैंकॉक में आयोजित होने वाले आसियान समिट में हिस्सा लेना है। यहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत तमाम दिग्गज देशों के प्रमुखों के आने की संभावना है। इसके बाद ब्राजील की राजधानी ब्राजीलिया में आयोजित होने वाले ब्रिक्स देशों के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक में मोदी हिस्सा लेंगे। इसमें रूस, चीन, दक्षिण अफ्रीका व ब्राजील के प्रमुख भी होंगे। वहां उक्त सभी चारों देशों के प्रमुखों के साथ मोदी की अलग-अलग द्विपक्षीय बात भी होगी।

अगले वर्ष ढाका का दौरा भी

शनिवार को बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी को ढाका आने के लिए भी आमंत्रित किया। मोदी ने उनका न्योता भी स्वीकार किया है। माना जा रहा है कि बांग्लादेश में अगले साल पाकिस्तान से अलग होने की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह में मोदी हिस्सा ले सकते हैं।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप