नई दिल्ली, आइएएनएस। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बताया कि 2014 के बाद से देश में 8.3 करोड़ शौचालयों (टॉयलेट) का निर्माण कराया है और वर्तमान में 90 फीसद भारतीयों को शौचालय की सुविधा उपलब्ध है। जबकि उनकी सरकार बनने से पूर्व यह प्रतिशत सिर्फ 40 फीसद था।

आज 90 फीसद भारतीयों को उपलब्ध हैं टॉयलेट

प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट एक वीडियो के जरिये बताया कि देश के 4.15 लाख से ज्यादा गांवों, 430 से ज्यादा जिलों, 2800 कस्बों और 19 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया जा चुका है। मालूम हो कि मोदी सरकार ने मई 2014 में सत्ता संभाली थी और उसके बाद स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालयों का निर्माण कराया गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुमान के मुताबिक शौचालयों के इस्तेमाल से प्रतिवर्ष तीन लाख भारतीय बच्चों की जान बचाई जा सकती है।

मोदी ने 'स्वच्छता ही सेवा आंदोलन' की शुरुआत के लिए देशवासियों से 15 सितंबर को सुबह 9.30 बजे साथ जुटने के आह्वान किया। यह अभियान दो अक्टूबर तक जारी रहेगा। प्रधानमंत्री ने कहा, 'दो अक्टूबर को हम गांधीजी की 150वीं जयंती कार्यक्रमों की शुरुआत करेंगे। इसी दिन बापू के स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने वाले ऐतिहासिक जन आंदोलन स्वच्छ भारत मिशन के चार साल पूरे हो जाएंगे।

स्वच्छता ही सेवा आंदोलन बापू को श्रद्धांजलि देने का महान जरिया है, इसलिए इसका हिस्सा बनिए और भारत को स्वच्छ बनाने के प्रयासों को मजबूत कीजिए। मैं ऐसे लोगों से बातचीत करने के प्रति उत्सुक हूं जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन को मजबूत करने के लिए जमीनी स्तर पर काम किया है और उसके बाद ही स्वच्छता की गतिविधियां आरंभ होंगी। मैं उन सभी लोगों का अभिनंदन करता हूं जो भारत को स्वच्छ बनाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं।' 

Posted By: Bhupendra Singh