तुमकुरू, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) दो दिन के कर्नाटक के दौरे पर हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने तुमकुरू (Tumakuru) में श्री सिद्धगंगा मठ का दर्शन किया। तुमकुरू में ही उन्होंने किसानों की एक जनसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन से पहले पीएम मोदी ने मंच से ही बटन दबाकर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) के तहत तीसरी किस्त किसानों के खाते में भेज दी।

पीएम ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि आज प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 8 करोड़ वें किसान के खाते में पैसा जमा किया गया है। इतने कम समय में ये उपलब्धि हासिल करना बहुत बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि आज इस कार्यक्रम से एक साथ देश के 6 करोड़ किसान परिवारों के खाते में 12 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं।

बता दें कि मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले इस योजना की घोषणा की थी। इसके तहत किसान को सालाना 6,000 रुपये सीधे उसके अकाउंट में ट्रांसफर किया जाता है। तीन किस्तों के जरिए दो-दो हजार रुपये की राशि का भुगतान किया जाता है। इस योजना के तहत अबतक तीन किस्त के पैसे किसानों को दिए जा चुके हैं।

गरीबों के खाते में पूरा पैसा 

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि देश में एक वो दौर भी था जब देश में गरीब के लिए एक रुपए भेजा जाता था तो सिर्फ 15 पैसे पहुंचते थे। बाकी के 85 पैसे बिचौलिए मार जाते थे। आज जितने भेजे जा रहे हैं, उतने, पूरे के पूरे सीधे गरीब और किसान के खाते में पहुंच रहे हैं।

किसान खेत में पैदा करे सौर ऊर्जा

पीएम ने कहा, 'किसानों को अपने पशुओं की बीमारियों और उनके इलाज पर कम से कम खर्च करना पड़े, इसके लिए राष्ट्रीय स्तर पर टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है। किसान अपने खेत में ही सौर ऊर्जा पैदा करके उसे नेशनल ग्रिड में बेच सके, इसके लिए पीएम कुसुम योजना शुरू की गई है।

मछुआरों की सुरक्षा के लिए ISRO की मदद

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मछलीपालकों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा से जोड़ा जा चुका है। उनकी सहूलियत के लिए बड़ी नदियों और समंदर में नए फिशिंग हार्बर बनाए जा रहे हैं। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए साढ़े 7 हज़ार करोड़ रुपए का विशेष फंड भी बनाया गया है। मछुआरों की नावों का आधुनिकीकरण किया जा रहा है और ISRO की मदद से मछुआरों की सुरक्षा के लिए नेविगेशन डिवाइस नावों में लगाए जा रहे हैं।

हर घर जल पहुंचाने का संकल्प

जल संकट पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि कर्नाटक सहित पूरे भारत में जल संकट की स्थिति से निपटने के लिए सरकार ने जल जीवन मिशन के तहत हर घर जल पहुंचाने का संकल्प लिया है। इस अभियान के तहत कर्नाटक सहित देश के 7 राज्यों में भूजल स्तर को ऊपर उठाने के लिए कदम उठाये जा रहे हैं।

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस