नई दिल्ली, प्रेट्र। करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने के समझौते का मसौदा अंतिम रूप देने के लिए जल्द ही पाकिस्तान को भेजा जाएगा। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

करतारपुर कॉरिडोर परियोजना में तेजी लाने पर विचार-विमर्श के लिए मंगलवार को एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई गई थी। केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया, पंजाब के मुख्य सचिव कर्ण अवतार सिंह और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

एक घंटे चली बैठक के बाद पंजाब के मुख्य सचिव कर्ण अवतार सिंह ने पत्रकारों को बताया, 'करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर समझौते का मसौदा हस्ताक्षर के लिए एक महीने के भीतर पाकिस्तान को भेजा जाएगा। हमें उम्मीद है कि जल्द ही तौर-तरीकों को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।'

बैठक में इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट और हाईवे के लिए भू-अधिग्रहण पर भी चर्चा हुई। बताया गया कि हाईवे के लिए भू-अधिग्रहण की प्रारंभिक अधिसूचना पहले ही जारी की जा चुकी है और इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट के लिए जमीन अधिग्रहण की अधिसूचना बुधवार को जारी कर दी जाएगी।

पंजाब सरकार ने आश्वस्त किया कि दोनों परियोजनाओं के लिए जमीन मार्च के मध्य तक उपलब्ध करा दी जाएगी। अधिकारियों के मुताबिक, इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट की विस्तृत योजना को अगले कुछ दिनों में अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है। पंजाब के मुख्य सचिव ने बताया कि भू-अधिग्रहण की प्रक्रिया अपने दूसरे चरण में है।

बता दें कि पिछले साल 26 नवंबर को उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भारतीय हिस्से में और 28 नवंबर को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तानी हिस्से में करतारपुर साहिब कॉरिडोर की आधारशिला रखी थी।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!