नई दिल्ली, एएनआइ। बेंगलुरु के फ्रीडम पार्क में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में आयोजित ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी की रैली में एक लड़की, जिसका नाम अमूल्‍या है, उनके द्वारा पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए। इसके बाद लड़की के नारों वाली वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इसे लेकर ओवैसी पर हमला बोले जाने लगा। राजनीति गरम हो गई है। अब केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी ओवैसी को आढ़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा है कि जो बोएंगे वो ही काटेंगे।

उन्होंने एएनआइ से बात करते हुए कहा, 'जो नारा जिसको पसंद आता है, उसके सामने वही नारे लगते हैं। जो आपने खेती की है वो जहर की खेती की है, उसमें फसल इसी तरह की पैदा होगी। जो बोएंगे वो ही काटेंगे। पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा अस्वीकार्य है।' उन्होंने आगे कहा कि वारिस पठान जैसे एआईएमआईएम नेता लोगों को भड़का रहे हैं और गुमराह कर रहे हैं।

बता दें कि राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वाली लड़की अमूल्‍या के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (देशद्रोह का अपराध) के तहत मामला दर्ज किया गया। अमूल्‍या को गिरफ्तार करने के बाद शुक्रवार को न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया है और ज्‍यूडिशियल मजिस्‍ट्रेट ने उसकी जमानत से इंकार कर दिया।

बेंगलुरु में असदुद्दीन ओवैसी ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में रैली आयोजित की थी जिसमें मंच पर बोलने के लिए अमूल्‍या को बुलाया गया था। इसी दौरान 19 वर्षीय अमूल्‍या ने ‘पाकिस्‍तान जिंदाबाद’ का नारा लगाया जिसके बाद उसपर देशद्रोह का आरोप लगाया गया।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस