ग्रेटर नोएडा, जागरण संवाददाता। राजस्‍थान सरकार में पिछले कुछ दिनों से काफी हलचल हो रही है। मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत और डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट के बीच सत्‍ता के लिए शह-मात का खेल चल रहा है। इसी बीच इस आग की लपट दिल्‍ली-एनसीआर में भी महसूस की जा रही है। 

देश का पूरा गुर्जर समाज सचिन पायलट के साथ खड़ा

अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के प्रदेश महासचिव एकलव्य बैसला ने बृहस्पतिवार को प्रेस को जारी बयान में कहा है कि आज देश का समस्त गुर्जर समाज सचिन पायलट के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा है कि जिस तरह से कांग्रेस पार्टी द्वारा सचिन पायलट के साथ व्यवहार किया गया है उसका बदला गुर्जर समाज जरूर लेगा, क्योंकि राजस्थान में यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो सचिन पायलट की वजह से बनी थी। वहीं आज कांग्रेस के कुछ लोग सचिन पायलट को अपमानित करने का काम कर रहे हैं।

इस अपमान को गुर्जर समाज नहीं भूलेगा

इस अपमान को गुर्जर समाज कभी नहीं भूलेगा और आने वाले समय में इस अपमान का बदला जरूरी लिया जायेगा। एकलव्य बैसला ने कहा कि सचिन पायलट की बढ़ती लोकप्रियता से कांग्रेस के लोग घबराने लगे थे। इसके चलते उन लोगों के द्वारा साजिश के तहत सचिन पायलट को घेरने का काम किया गया है। जल्द ही 36 बिरादरी को लेकर दिल्ली एनसीआर में एक महापंचायत आयोजन किया जाएगा। सचिन पायलट के साथ आज हर बिरादरी का युवा और बुजुर्ग खड़ा है।

यह है ताजा स्‍थिति

गौरतलब है कि राजस्थान का सियासी ड्रामा अब कोर्ट पहुंच गया है। सचिन पायलट का खेमा विधायकों की सदस्यता रद करने को लेकर जारी नोटिस के खिलाफ राजस्‍थान हाईकोर्ट पहुंच गए हैं। राजस्थान हाईकोर्ट ने पायलट की याचिका को स्वीकार करते हुए खंडपीठ को रेफर कर दी है। बृहस्‍पतिवार देर शाम को होने वाली सुनवाई टाल दी गई है। इसमें अब दो जजों की बेंच शुक्रवार दोपहर एक बजे सुनवाई करेगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021