नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Manmohan Singh: पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान से मंगलवार दोपहर में डिस्चार्ज कर दिया गया। डॉक्टरों की सलाह पर उन्हें डिस्चार्ज किया गया है। बता दें कि वह रविवार शाम से एम्स के आइसीयू में भर्ती थे।

कार्डियोलॉजी के वरिष्ठ डॉक्टर के नेतृत्व में उनका इलाज चल रहा था। एम्स ने सोमवार का कहा था कि उनकी हालत स्थिर है और उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। उनकी कोरोना की जांच भी कराई गई, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई था। वहीं, मनमोहन सिंह का आइसीयू से प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया था। 

उल्लेखनीय है कि रविवार को सीने में दर्द की शिकायत के कारण उन्हें रात 8:45 बजे कार्डियक सेंटर में भर्ती किया गया था। एम्स के डॉक्टर कहते हैं कि उन्हें हल्का बुखार भी था। इस वजह से उनकी कोविड की जांच भी कराई गई। 

गौरतलब है कि इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह को 10 मई की शाम को एम्स में भर्ती कराया गया है और तभी से उनका इलाज जारी है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तबियत खराब होने के कारण उन्‍हें दिल्‍ली के एम्‍स अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। उन्‍हें सीने में दर्द की शिकायत है। 

बता दें कि 2009 में उनकी एम्स में ही कोरोनरी बाइपास सर्जरी हुई थी। दो बार देश के प्रधानमंत्री रह चुके डॉ. मनमोहन सिंह इस समय राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं। वह 2004 से 2014 के बीच देश के प्रधानमंत्री थे।

डॉ. मनमोहन सिंह की तबियत खराब होने के बाद कई नेताओं ने ट्वीट कर उनके जल्द स्वस्थ होने की दुआ मांगी है। कांग्रेस के ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया गया है कि हम पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंहजी के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं।

कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन ने कहा है कि डॉ. मनमोहनसिंह की शीघ्र स्वस्थ होने के लिए सभी प्रार्थना करते हैं। शायद इस महत्वपूर्ण मोड़ पर, हमारे देश को उसकी सबसे ज्यादा जरूरत है।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस