जोधपुर,जेएनएन। राजस्थान में नई सरकार बनने से पहले ही सरकारी योजनाओं और सरकारी भवनों के नाम बदलने का सिलसिला शुरू हो गया है। हालांकि, अभी तक इस बारे में आधिकारिक नोटिफिकेशन तो जारी नहीं हुआ है, लेकिन पूर्व में जिस तरह की बयानबाजी होती आई है, उसी के मद्देनजर अब भवनों के नाम बदलने शुरू हुए हैं।

ताजा मामला जैसलमेर जिले की जैसलमेर पंचायत समिति के अटल सेवा केंद्र पर देखने को मिला है। इसका नाम बदलकर राजीव अटल सेवा केंद्र कर दिया गया है। गौरतलब है कि समय-समय पर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस नामकरण का हवाला देते आए हैं। अब जैसे ही प्रदेश में भाजपा की सरकार गई तो अटल सेवा केंद्र के आगे राजीव नाम जोड़ दिया गया है। हालांकि, यह नाम किसने जोड़ा या किसके आदेश से जोड़ा गया है, इसे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। कयास यही लगाए जा रहे हैं कि आने वाले दिनों में पूरे प्रदेश में अटल सेवा केंद्र का नाम राजीव अटल सेवा केंद्र कर दिया जाएगा।

मालूम हो, पूर्व में कांग्रेस सरकार के समय इन पंचायत समिति के भवनों का नाम राजीव गांधी सेवा केंद्र था, जिसे भाजपा सरकार ने आते ही अटल सेवा केंद्र कर दिया था।

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस