Move to Jagran APP

NCP प्रमुख शरद पवार के आवास पर विपक्षी नेताओं की बैठक, दिग्विजय सिंह बोले- EVM को लेकर देश में शंका

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार ने गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी स्थित आवास पर विपक्षी दलों के नेताओं की बैठक बुलाई। इस बैठक में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) मशीन के मुद्दे पर तमाम नेताओं ने अपनी बात रखी। (फोटो ANI)

By AgencyEdited By: Anurag GuptaPublished: Thu, 23 Mar 2023 07:16 PM (IST)Updated: Thu, 23 Mar 2023 07:27 PM (IST)
NCP प्रमुख शरद पवार के आवास पर विपक्षी नेताओं की बैठक, EVM के मुद्दे पर हुई चर्चा

नई दिल्ली, एएनआई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार ने गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी स्थित आवास पर विपक्षी दलों के नेताओं की बैठक बुलाई। इस बैठक में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) मशीन के मुद्दे पर तमाम नेताओं ने अपनी बात रखी।

शरद पवार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह, राज्यसभा सांसद कपिल सिब्बल, वाम नेता डी राजा, समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव, एनसीपी सांसद प्रभुल्ल पटेल, सुप्रिया सुले समेत कई नेता उपस्थित रहे।

'EVM को लेकर देश में शंका'

दिग्विजय सिंह ने कहा कि रिमोट ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। उस समय लगभग सभी ने रिमोट EVM के माध्यम से चुनाव कराने पर असहमति जताई थी। वे डेमो देना चाहते थे, लेकिन वह भी ठुकरा दिया गया। EVM को लेकर देश में शंका है।

उन्होंने कहा कि यहां मौजूद सभी राजनीतिक दलों के बीच यह सहमति बनी है कि हमें चुनाव आयोग से सवाल पूछने की जरूरत है।

'EC से सवालों का मांगेंगे लिखित जवाब'

कपिल सिब्बल ने कहा कि जब भी ईवीएम में खराबी आती है, वोट भाजपा को जाता है। ये भ्रम सिर्फ राजनैतिक दलों को नहीं है, ये भ्रम जनता में फैल चुका है इसलिए हमने फैसला किया है कि हम चुनाव आयोग के पास जाएंगे और हमारे सवालों के लिखित में जवाब मांगेंगे।

'...वोटिंग के लिए नहीं होता EVM का इस्तेमाल'

उन्होंने कहा कि दुनिया की किसी भी मशीन के साथ छेड़छाड़ हो सकती है और कोई साइंस या कोई एक्सपर्ट यह नहीं कह सकता कि मशीन के साथ छेड़छाड़ नहीं होती। इसीलिए किसी भी लोकतांत्रिक देश में वोटिंग के लिए इलेक्ट्रॉनिक मशीन का इस्तेमाल नहीं होता।

उल्लेखनीय है कि विपक्षी नेताओं की इस बैठक से तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने दूरियां बनाई हैं। इस बैठक में टीएमसी का कोई भी नेता शामिल नहीं हुआ। दरअसल, बैठक ईवीएम की विश्वसनीयता मुद्दे पर बुलाई गई थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.