मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बेंगलुरू, एजेंसी। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने गुरुवार को बयान दिया था कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को बहुत पहले मुख्यमंत्री बना देना चाहिए था। कुमारस्वामी की इस टिप्पणी के बाद राज्य में राजनीतिक घमासान मचा है। उनके इस बयान पर कुमारस्वामी और राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन समन्वय समिति प्रमुख सिद्धारमैया के बीच टि्वटर पर बहस छिड़ी हुई है। इन सबके बीच अब खुद मल्लिकार्जुन ख़ड़गे ने इस पूरे मामले में अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि ये मामला अब बंद हो चुका है। चुनाव अभियान के दौरान कई तरह की बातें कही जाती हैं। उन सबका कुछ संदर्भ होता है। इसलिए अब इस तरह की बयानबाजी का कोई मतलब नहीं है। माना जा रहा है कि खड़गे ने ये बयान राज्य में मचे राजनीतिक भूचाल को शांत करने के लिए दिया है।

मालूम हो कि गुरुवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने खड़गे की उपस्थिति में एक जनसभा में बयान दिया था कि उन्हें बहुत पहले ही राज्य का मुख्यमंत्री बना देना चाहिए था। कुमारस्वामी का ये बयान ऐसे वक्त आया था, जब कांग्रेस नेता सिद्धारमैया खुद को फिर से मुख्यमंत्री प्रोजेक्ट कर रहे हैं। कांग्रेस के कुछ विधायक भी सिद्धारमैया को फिर से राज्य का मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग कर रहे हैं।

कुमारस्वामी का पूरा बयान
कुमारस्वामी ने कहा, 'खड़गे को बहुत पहले ही मुख्यमंत्री बना दिया जाना चाहिए था। मेरा मानना है कि उनके साथ अन्याय किया गया। मैं स्पष्ट तौर पर कहना चाहूंगा कि खड़गे ने जितना कुछ किया, उन्हें उसकी पहचान नहीं मिली।' कुमारस्वामी ने कहा कि वर्तमान गठबंधन सरकार में खड़गे सीएम बन सकते थे, लेकिन उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस नेतृत्व के फैसले का पालन करेंगे।

कुमारस्वामी और सिद्धारमैया के बीच ट्वीटर पर जंग
मल्लिकार्जुन को सीएम बनाने वाले बयान को लेकर कुमारस्वामी और राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन समन्वय समिति प्रमुख सिद्धारमैया के बीच जंग छिड़ गई है। कांग्रेस और जेडीएस के बीच की बहस सार्वजनिक हो चुकी है। कुमारस्वामी के इस बयान को कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की मुख्यमंत्री बनने की इच्छा को मात देने वाला माना जा रहा है। गुरुवार को ही इस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए सिद्धारमैया ने कहा था कि पीडब्ल्यूडी मंत्री व कुमारस्वामी के बड़े भाी एचडी रेवन्ना भी इस पद के काबिल हैं। कुमारस्वामी ने सही कहा है। मल्लिकार्जुन खड़गे न केवल सीएम, बल्कि इससे भी ऊंचा पद पाने के काबिल हैं। कांग्रेस और जेडीएस में कई लोग हैं, जो मुख्यमंत्री बनने की काबिलियत रखते हैं।

इस्तीफा देकर खड़गे को सीएम क्यों नहीं बना देते कुमारस्वामी : येद्दयुरप्पा
कुमारस्वामी की टिप्पणी पर भाजपा नेता येद्दयुरप्पा ने भी तंज किया था। गुरुवार को उन्होंने कहा था कि वे (कुमारस्वामी) कह रहे हैं कि खड़गे को बहुत पहले सीएम बना दिया जाना चाहिए। अगर वे अपने स्वप्न को साकार करना चाहते हैं तो उन्हें इस्तीफा देकर खड़गे को मुख्यमंत्री बना देना चाहिए। येद्दयुरप्पा ने कहा कि उन्होंने यह कभी नहीं कहा कि वे सरकार को गिराएंगे। हम तो इसकी कोशिश भी नहीं कर रहे हैं। जद-एस और कांग्रेस एक-दूसरे से लड़ रहे हैं और दोनों पार्टियों में मतभेदों के चलते ही यह सरकार गिर जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप