कोटा (नईदुनिया)। अनुसूचित जाति-जनजाति एक्ट में किए गए संशोधन के विरोध में राजस्थान के कोटा में राजपूताना यूथ फाउंडेशन और अन्य संगठनों के कार्यकर्ताओं ने रविवार को कोटा-बूंदी सांसद ओम बिरला के निवास के बाहर उग्र प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने सांसद के घर पर चूडि़यां फेंकी और जमकर नारेबाजी की। वहां टायर भी जलाए गए। विरोध प्रदर्शन में सवर्ण समाज के काफी लोग शामिल थे। राजपूताना यूथ फाउंडेशन, ब्राह्मण कल्याण परिषद और समता आंदोलन के कार्यकर्ता व सवर्ण समाज के लोग सुबह बड़ी संख्या में सांसद बिरला के आवास पर पहुंचे और वहां एससी-एसटी एक्ट का विरोध करते हुए जमकर नारेबाजी की। इस दौरान बिरला घर पर नहीं थे।

कोटा (दक्षिण) विधायक संदीप शर्मा प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए आए तो लोगों ने उनके साथ धक्का-मुक्की की। प्रदर्शन की सूचना को देखते हुए सांसद के घर के बाहर पहले से ही कुछ पुलिसकर्मी तैनात थे लेकिन प्रदर्शनकारियों की संख्या पुलिस के अनुमान से कहीं ज्यादा थी। ऐसे में और पुलिस बल बुलाया गया। पुलिस ने किसी तरह प्रदर्शनकारियों को समझा बुझाकर वहां से रवाना किया तो वे सीएडी चौराहे पर पहुंच गए और जाम लगा दिया। करीब आधे घंटे तक यातायात बाधित रहा।

Posted By: Arti Yadav