भोपाल, जेएनएन। अपने उपर एफआइआर से नाराज पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने भाजपा पर पलटवार किया है। पटवारी ने कहा है कि एक नहीं, सौ एफआइआर करवा दें। मैंने बढ़ती बेरोजगारी, कम होती आर्थिक विकास दर, किसानों की दोगुनी आय के वादों संबंधी सवालों के जवाब मांगे हैं।

पीएम मोदी के फोटो से छेड़खानी कर सोशल मीडिया पर वायरल करने के मामले में पटवारी के खिलाफ एफआइआर हुई है। उधर, प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने पटवारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई संबंधी मांग और मामले की शिकायत प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को भेज दी है।

कमल नाथ ने दी ओआंदोलन की धमकी                          

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि भाजपा बदले, दबाव, दुर्भावना की राजनीति और द्वेष भावना से काम कर रही है। अगर ऐसी राजनीति बंद नहीं की गई तो प्रदेश व्यापी आंदोलन किया जाएगा। हमारी सरकार ने कभी ऐसी कार्रवाई नहीं की। अगर हम भाजपा की राह पर चले होते तो कई भाजपा नेताओं पर मामले दर्ज हो चुके होते।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित कर रही भाजपा

वहीं, पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने कहा है कि भाजपा सरकार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित कर रही है। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी दी है कि वे कानून की लक्ष्मण रेखा नहीं लांघें, वक्त पलटते देर नहीं लगती।

क्या है पूरा मामला

कांग्रेस नेता जातू पटवारी ने राम मंदिर भूमिपूजन में शामिल प्रधानमंत्री के फोटो में बदलाव कर उसे अमर्यादित टिप्पणी के साथ अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया था। इस तरह हिंदुओं की भावनाएं भड़काने की साजिश की गई। फोटो में बदलाव के साथ वायरल करने पर उन्होंने आइटी एक्ट का उल्लंघन किया है। शिकायत के साथ पटवारी के ट्विटर अकाउंट पर की गई पोस्ट के स्क्रीन शॉट की प्रति भी बतौर सबूत सौंपी गई है। फोटो वायरल होने के बाद से ही भाजपा नेता नाराज थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021