नई दिल्ली, एएनआइ। इस साल खाड़ी देशों में भारतीय कामगारों ने करीब 9771 शिकायतें दर्ज कराई हैं। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने लोकसभा में बुधवार को यह जानकारी दी।

केरल के सांसद डेआन कुरिआकोसे के सवाल के लिखित उत्तर में विदेश मंत्री ने कहा, 'खाड़ी देशों में दूतावासों और संदेशों से मिली सूचना के मुताबिक, 30 जून 2019 तक कुवैत में सबसे ज्यादा 2377 शिकायतें दर्ज हुई हैं। इसके बाद सऊदी अरब में 2244 शिकायतें और ओमान में 1764 शिकायतें दर्ज हुई हैं। संयुक्त अरब अमीरात में 1477 और कतर में 1459 लेकिन बहरीन में केवल 450 शिकायतें मिली हैं।'

कामगारों और उनकी ओर से मिली शिकायतों में सबसे ज्यादा वेतन भुगतान नहीं होने और वैधानिक श्रम अधिकार की अनदेखी के संबंध में है। इसके अलावा आवासी परमिट जारी/नवीकरण से इन्कार, ओवर टाइम भत्ते का भुगतान नहीं होने, साप्ताहिक अवकाश, ज्यादा समय तक काम करने, भारत आने के लिए एक्जिट-री इंट्री परमिट देने से इन्कार, करार खत्म होने के बाद कामगार को अंतिम एक्जिट वीजा की अनुमति देने से इन्कार, मृत्यु के बाद मुआवजे का भुगतान नहीं होने आदि की शिकायतें भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि सरकारी आंकड़े के मुताबिक, 30 जून 2019 तक खाड़ी देशों में स्थित दूतावासों या वाणिज्य दूतावासों कुल 5,804 भारतीय स्वदेश वापसी के लिए पंजीकृत थे।

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप