नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। संसद के मौजूदा सत्र को एक हफ्ते के लिए बढ़ाया जा सकता है। लोकसभा चुनाव में NDA की भारी जीत के बाद संसद की दोनों सदनों की कार्यवाही के सुचारू रूप से चलने के कारण सरकार अपने अधिक-से-अधिक विधेयक को इसी सत्र में पास कराने की कोशिश करेगी। लेकिन बचे हुए दिनों में इन्हें पास कराना मुश्किल लग रहा है। ऐसे में सरकार एक हफ्ते तक सत्र को बढ़ाने पर विचार कर रही है। फिलहाल सत्र 26 जुलाई तक है।

दरअसल पिछली लोकसभा के अंतिम तीन-चार सत्र में विपक्ष के हंगामे के कारण सरकार के अधिकांश अहम विधेयक रुक गए थे। खासकर राज्यसभा में संख्या बल के कारण विपक्ष इन्हें रोकने में सफल रहा था। लेकिन चुनाव के बाद स्थिति काफी हद तक बदल गई है।

राज्यसभा में भी NDA बहुमत के काफी करीब पहुंच गया है। ऐसे में सरकार के लिए विधेयकों को पास बहुत मुश्किल नहीं होना चाहिए।  NIA से लेकर कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू कराने से संबंधित विधेयकों में इसे साफ तौर देखा गया। जाहिर है सरकार अपने कार्यकाल की शुरूआत में ही अधिकांश नीतिगत मामलों से संबंधित विधेयकों को पास कराकर विकास के रास्ते में आ रही रुकावटों को दूर करना चाहती है।

Posted By: Dhyanendra Singh